न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्वामी अग्निवेश पर हुए हमले की जांच तेज, डीआईजी और आयुक्त ने की दुकानदारों से पूछताछ

होटल मुस्कान और आसपास के दुकानदारों से घटना के बारे में ली जानकारी

541

Pakur : पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश पर हुए हमले मामले की जांच करने दुमका आयुक्त डॉ प्रदीप कुमार और डीआईजी राजकुमार लकड़ा पाकुड़ पहुंचे.  दोनों अधिकारियों ने घटना स्थल होटल मुस्कान के आस पास स्थित दुकानदारों, होटल कर्मियों, होटल मालिक से घटना को लेकर पूछताछ की. सदर अस्पताल  जाकर डाक्टर एवम स्वास्थ कर्मियों से भी पूछताछ की गई.

इसे भी पढ़ें-स्वामी अग्निवेश की पिटाई पर सदन में हंगामा, सीपी सिंह ने बताया विदेशी दलाल-कार्यवाही बाधित

Aqua Spa Salon 5/02/2020

मुख्यमंत्री के आदेश पर हो रही जांच

दोनों अधिकारी मुख्यमंत्री के आदेश पर मामले की जांच करने पहुंचे हैं. गौरतलब है कि पिछले मंगलवार को स्वामी अग्निवेश पर भारतीय जनता युवा मोर्च के कार्यकर्ताओं ने हमला किया थी. मुख्यमंत्री ने मारपीट की इस घटना को गंभीरता से लिया है. उन्होने गृह सचिव को इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिये हैं. मुख्यमंत्री के आदेश के बाद गृह सचिव ने संथाल परगना के डीआईजी और पाकुड़ के आयुक्त को जांच कर अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा है. दोनों अधिकारी उसी सिलसिले में पाकुड़ पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ें-स्वामी अग्निवेश पर हमला अभिव्यक्ति को कूचलने का प्रयास : बाबूलाल मरांडी

कौन हैं स्वामी अग्निवेश ?

स्वामी अग्निवेश का छत्तीसगढ़ के शक्ति में हुआ था.  21 सितंबर, 1939 को उनका जन्म हुआ था. कोलकाता से उन्होंने लॉ और बिजनेश मैनेजमेंट की पढ़ाई की थी. पढाई पूरी करने के बाद उन्होंने आर्य समाज में संन्यास ग्रहण कर लिया था. जिसके बाद आर्य समाज का काम करते-करते 1968 में आर्य सभा के नाम से एक राजनीतिक पार्टी बनायी. वर्ष 1981 में उन्होंने दिल्ली में बंधुआ मुक्ति मोर्चा की स्थापना की. इसके बाद वह राजनीति में उतरे और हरियाणा के मंत्री बने. हांलाकि बाद में उन्होंने राजनीति पूरी तरह से छोड़ दिया.

इसे भी पढ़ें-पाकुड़ में भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने की स्वामी अग्निवेश की पिटाई, पुलिस कर रही जांच

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like