lok sabha election 2019

क्या जमशेदपुर से बीजेपी उम्मीदवार विद्युत बरन महतो के शुभचिंतक 50 लाख देकर अपने पक्ष में आप उम्मीदवार को कह रहे थे प्रचार करने?

Ranchi: कुछ दिनों से जमशेदपुर लोकसभा क्षेत्र में एक ऑडियो वायरल है. ऑडियो बांग्ला में है. ऑडियो में दो लोग आपस में चुनाव को लेकर बातचीत कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि इन दोनों में से एक जमशेदपुर सीट से आम आदमी पार्टी (आप) के टिकट पर चुनाव लड़ रहे दिनेश महतो हैं और दूसरी तरफ बीजेपी के उम्मीदवार विद्युत बरन महतो के कोई शुभचिंतक. ऑडियो में शुभचिंतक महोदय आप के उम्मीदवार को यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि वो कभी भी चुनाव जीत नहीं सकते हैं. उनका कहना था कि उन्होंने एक सर्वे कराया है. उस सर्वे के मुताबिक दिनेश महतो बुरी तरह हार रहे हैं. ऐसे में चुनाव लड़ कर दिनेश महतो को कोई फायदा नहीं है. ऐसे में क्यों ना वो (दिनेश महतो) जमशेदपुर के ग्रामीण इलाके में बीजेपी के उममीदवार विद्युत बरन महतो के पक्ष में आदिवासियों के बीच प्रचार करें.

इसे भी पढ़ें – सोनिया ने रोड शो किया, रायबरेली से नामांकन किया, कहा, हम ही चुनाव जीतेंगे

शुभचिंतक ने 50 लाख में की डील फाइनल

वायरल ऑडियो में बीजेपी के उम्मीदवार विद्युत बरन महतो के शुभचिंतक उन्हें अपनी बात समझाने में कामयाब हो जा रहे हैं. शुभचिंतक महोदय का कहना है कि किसी भी हाल में चम्पई सोरेन की जीत नहीं होनी चाहिए. इसके लिए जमशेदपुर के ग्रामीण इलाके में वो आदिवासियों के बीच विद्युत बरन महतो के पक्ष में मतदान करने को कहें. इस काम के लिए उन्हें 50 लाख रुपए दिये जाएंगे. डील के आधे पैसे एडवांस में दिये जाएंगे. वहीं बाकी के पैसे काम होने के बाद दिया जाएगा. शुभचिंतक महोदय ने कहा कि एक दिन के बाद उनका आदमी उनके पास पैसा लेकर पहुंचेगा. अगर उन्हें लगेगा कि सच में दिनेश महतो ने ग्रामीण इलाके में वोटरों को विद्युत बरन महतो के पक्ष में वोट देने के लिए मना लिया है, तो बाकी के पैसे भी मिल जाएंगे.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में पहले चरण के दौरान दर्ज हुए आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के 347 मामले, 34 प्राथमिकी भी

आप ने अपने उम्मीदवार दिनेश महतो को किया निलंबित

आम आदमी पार्टी ने जमशेदपुर से पार्टी के उम्मीदवार दिनेश महतो को निलंबित कर दिया. पार्टी के मीडिया प्रभारी राजेश कुमार ने जानकारी दी कि पार्टी की ओर से बुधवार देर रात यह कार्रवाई की गयी है. रात के करीब आठ बजे पार्टी कार्यालय को दिनेश महतो के स्टिंग ऑपरेशन का ऑडियो क्लिप मिला. जांच के बाद जानकारी हुई कि ऑडियो में आवाज दिनेश महतो की ही है. जिसके बाद उन्हें निलंबित किया गया. पार्टी की ओर से जानकारी दी गई कि प्रदेश संयोजक जयशंकर चौधरी ने पूरी जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया. वहीं बुधवार शाम से ही दिनेश महतो पार्टी कार्यकर्ताओं का फोन नहीं उठा रहे थे. जिसके बाद पार्टी की ओर से उन्हें निलंबित करने का फैसला लिया गया.

इसे भी पढ़ें – नियम-कानून को ताक पर रख कर वन विभाग ने निकाला था विज्ञापन, नियुक्ति प्रक्रिया करनी पड़ी स्थगित

कमेटी ने पक्ष सुनने के लिए बुलाया, लेकिन नहीं आये दिनेश

मामले में गठित कमेटी की ओर से दिनेश महतो का पक्ष सुनने के लिए उन्हें कई बार फोन किया गया. उन्हें गुरुवार 12:30 बजे तक का समय दिया गया था. उन्हें इसकी सूचना भी दी गयी. लेकिन फिर भी कमेटी के समक्ष अपना पक्ष रखने के लिए दिनेश महतो उपस्थित नहीं हुए. उन्हें जिला सचिव रंजित बास्के की ओर से कमेटी के समक्ष पेश होने की सूचना दी गई थी, जिस पर दिनेश ने जवाब दिया कि वे किसी पार्टी के समक्ष नहीं आएंगे. अपनी जांच में कमेटी ने पाया कि ऑडियो क्लिप सही है. इसमें दिनेश महतो की ही आवाज है. जांच रिपोर्ट प्रदेश संयोजक जयशंकर चौधरी और केंद्रीय पॉलिटीकल अफेयर्स कमेटी को भेजी जा रही है. दिनेश महतो को पार्टी से निष्कासित और उनकी उम्मीदवारी वापस लेने की अनुशंसा की गई है.

इसे भी पढ़ें – कोडरमा से भाकपा माले प्रत्‍याशी राजकुमार यादव ने किया नामांकन

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close