न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबाद जिले के झरिया अंचल में डायरिया का प्रकोप, स्वास्थ्य केंद्र की टीम पहुंची

सरकारी स्वस्थ केंद्र में सही से इलाज नहीं किया जा रहा

240

Dhanbad : बारिश के मौसम में चारों ओर डायरिया, डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया जैसी बीमारियों का प्रकोप शुरू हो गया है. धनबाद जिले के झरिया अंचल का वार्ड संख्या 38 इन दिनों डायरिया महामारी से जूझ रहा है. यहां के लगभग हर घर में डायरिया का मरीज पाया जा रहा है. लोगों की मानें तो इस महामारी के कारण अबतक चार लोगों की मौत हो चुकी है. इसी वार्ड के डुमरी बस्ती में डायरिया के प्रकोप से पीड़ित 30 मरीजों को स्वास्थ्य विभाग की तरफ से चिन्हित भी किया गया है.

इसे भी पढ़ें- मिजल्स-रूबेला टीकाकरण अभियान परवान पर, निधि खरे खुद कर रही हैं मॉनिटरिंग

सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में नहीं किया जा रहा सही इलाज

रविवार को झरिया सीओ केएन सिंह, चासनाला स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर सुनील कुमार सदलबल इलाके में पंहुचे और पीड़ितों के घर जाकर उनका हालचाल पूछा. पीड़ित परिवारों के बीच दवाइयां और जरूरी सामान का वितरण किया गया. स्थानीय और पीड़ित लोगों ने बताया कि सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में सही से इलाज नहीं किया जा रहा है. मरीजों की स्थिति गम्भीर देखकर धनबाद पीएमसीएच भेज दिया जाता है. स्थिति तब और भी गंभीर हो जाती है जब मरीजो का पीएमसीएच में भी सही से इलाज नहीं हो पता. सक्षम लोग तो निजी क्लिनिक में अपना इलाज करवा ले रहे हैं, लेकिन कई गरीब परिवार अब भी जिला प्रशासन की ओर टकटकी बांधे देख रहे हैं कि शायद कोई सरकारी रहनुमा आये और उन्हें इस महामारी से बचा ले जाये

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह: गांडेय बीडीओ के घर में घुस कर अपराधियों ने गोली मारी

डायरिया का कारण बस्ती में गंदगी और गंदे पानी का सप्लाई

बस्ती में डायरिया फैलने का कारण लोग गंदे पानी के सप्लाई को मान रहे हैं. उनका कहना है कि इस महामारी का कारण वाटर बोर्ड के द्वारा काफी गंदे पानी का सप्लाई किया जाना है. जिसके पीने से लोग एक-एक कर डायरिया की चपेट में आ रहे है. झरिया सीओ केएन सिंह ने भी डायरिया का कारण बस्ती में गंदगी और गंदे पानी के सप्लाई को ही माना हैं. उन्होंने बताया कि स्थिति की जानकारी मिलने में थोड़ा विलंब हुआ है. जिससे स्थिति थोड़ी बिगड़ी है. लेकिन अब इसपे पूरा ध्यान दिया जा रहा है. आगे लोगों का सही इलाज हो और लोग अब इस महामारी के चपेट में न आयें, जिला प्रशासन की यही प्राथमिकता होगी.

ब़्लीचिंग पावडर का किया जा रहा छिड़काव

चासनाला स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार का कहना है कि मरीजों को सारी सुविधा दी जा रही है. जरूरत के हिसाब से सलाईन और दवाइयां भी दी जा रही है और इलाके में ब़्लीचिंग पावडर का भी छिड़काव किया जा रहा है. जरूरत पड़ी तो जिला मुख्यालय से भी मदद ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें- हिंदपीढ़ी : 20 दिन पहले ही सिविल सर्जन से की गयी थी चिकनगुनिया फैलने की शिकायत, फिर भी सोया रहा प्रशासन

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: