Court News

ढुल्लू को मिलेगी बेल! शुक्रवार को होगा फैसला

Ranchi : महिला नेत्री के साथ दुष्कर्म की कोशिश,  यौन शोषण  समेत अन्य  गंभीर आरोप झेल रहे बाघमारा के भाजपा विधायक ढूल्लू जेल से बाहर आयेंगे या नहीं यह शुक्रवार को तय होगा. यौन शोषण के मामले में न्यायिक हिरासत में बंद विधायक ढुल्लू महतो की याचिका हाइकोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित रखा है, झारखंड हाइकोर्ट शुक्रवार को अपना फैसला सुनायेगा. हाइकोर्ट के जस्टिस रंगोन मुखोपाध्याय की अदालत में कोर्ट की ओर से शुक्रवार को जारी सूची में यह मामला भी सूचीबद्ध है.

पिछली सुनवाई के दौरान विधायक ढुल्लू महतो के अधिवक्ता के द्वारा कोर्ट में बहस के दौरान बताया गया कि यौन शोषण के मामले में उन्हें राजनीतिक विद्वेष के कारण फंसाया गया है, यह मामला वर्ष 2015 का है और प्राथमिकी 2019 में दर्ज करायी गयी है.

इसे भी पढ़ें – 20 साल पुराने भाजपा सरकार में रक्षा सौदे में भ्रष्टाचार केस में समता पार्टी की पूर्व अध्यक्ष जया जेटली को 4 साल की कैद

Sanjeevani

हाइकोर्ट के आदेश पर हुआ था मामला दर्ज

महिला नेत्री ने विधायक ढुल्लू महतो पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए शिकायत की थी. हाइकोर्ट के आदेश पर विधायक के खिलाफ पुलिस ने 4 अक्टूबर 2019 को प्राथमिकी दर्ज की थी. बाद में महिला का धारा 164 के तहत 15 फरवरी 2020 को बयान दर्ज कराया गया था.

महिला ने कोर्ट में बयान दिया था कि नवंबर 2015 में हिंदुस्तान जिंक के टुंडू गेस्ट हाउस में ढुल्लू महतो ने उनके साथ दुष्कर्म की कोशिश और जबरन उनके साथ गलत काम किया था. पीड़िता ने कोर्ट को बताया था कि जब वो गेस्टहाउस गयी थी तो वहां आनंद शर्मा थे. आनंद शर्मा और अयोध्या ठाकुर ने उससे कई बार कहा था कि ढुल्लू उसे पसंद करते हैं और उनकी बात मानने पर उसे मालामाल कर देंगे.

इसे भी पढ़ें – धनबाद: टुंडी में नक्सलियों की बढ़ी चहलकदमी, पोस्टरबाजी करके शहीद सप्ताह मनाने की अपील

11 मई से जेल में बंद हैं ढुल्लू महतो

विधायक ढुल्लू महतो ने रंगदारी मांगने के मामले में 11 मई को कोर्ट में सरेंडर किया था. 13 मई को इस मामले में उन्हें रिमांड किया गया था. सोमवार को इस मामले में विधायक की न्यायिक हिरासत की अवधि 60 दिन पूरी हो गयी थी. इस मामले में जमानत अर्जी पर हाइकोर्ट में सुनवाई पूरी हो चुकी है. न्यायाधीश ने आदेश सुरक्षित रख लिया था. इसके पहले इस मामले में विधायक ढुल्लू महतो की अग्रिम जमानत याचिका 7 मार्च 2020 को जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजीव कुमार सिन्हा की अदालत से जबकि 8 अप्रैल 2020 को हाइकोर्ट से खारिज हो चुकी थी.

इसे भी पढ़ें – 73 साल से बिजली आने का इंतजार कर करे दुमका के अमझरी गांव के लोग, CM हेमंत सोरेन से राहत की अपील

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button