न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फिर दिखा धोनी का धमालः 48 गेंदों पर 84 रनों की नाबाद पारी

हालांकि एक रन से जीता बेंगलोर

813

Bengaluru: वर्ल्ड कप से पहले महेंद्र सिंह धोनी की धुंआधार बैटिंग जारी है. रविवार रात को बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में 37 साल के धोनी का खेल देख हर तरफ माही के चर्चे हैं. उन्होंने आखिरी ओवर में उमेश यादव की गेंदों पर अपनी धुंआधार बल्लेबाजी से धमाल मचा दिया.

mi banner add

धोनी का धमाल

महेंद्र सिंह धोनी अपने सदाबहार अंदाज में खेलते नजर आये और 48 गेंदों में नाबाद 84 रन की पारी खेली. धोनी ने अपनी 48 गेंदों की पारी में पांच चौके और सात छक्के लगाये.

उन्होंने ऐसे समय क्रीज पर कदम रखा जबकि चेन्नई छठे ओवर में चार विकेट पर 28 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था. धोनी ने इसके बाद अपने दम पर टीम को लक्ष्य के करीब पहुंचाया.

चेन्नई को आखिरी ओवर में 26 रन की जरूरत थी. धोनी ने उमेश यादव की पहली पांच गेंदों पर पहले चौका, फिर दो छक्के, दो रन और फिर एक छक्का लगाया.

लेकिन उनके आखिरी गेंद पर चूकने से बेंगलोर की आईपीएल में उम्मीदें बनी रही. और चेन्नई सुपरकिंग्स पर बेंगलुरू ने एक रन से करीबी जीत दर्ज करने में सफल रहा.

इससे पहले बेंगलोर ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर पार्थिव पटेल (37 गेंदों पर 53 रन, दो चौके, चार छक्के) के अर्धशतक और मोईन अली (16 गेंदों पर 26 रन) के आखिरी क्षणों की तेजतर्रार पारी से सात विकेट पर 161 रन बनाये.

सीएसके टॉप पर

चेन्नई की यह दस मैचों में तीन मैच हारे हैं जबकि सात में जीत दर्ज की. वहीं कोहली की बेंगलोर टीम ने दस मैचों में इतने ही जीते हैं और सात हारे हैं. चेन्नई अब भी शीर्ष पर और बेंगलोर सबसे निचले पायदान पर है.

बेंगलोर को डेल स्टेन (29 रन देकर दो) और उमेश (47 रन देकर दो) ने शुरू में सफलताएं दिलायी. स्टेन ने शेन वाटसन (पांच) और सुरेश रैना (शून्य) को पहले ओवर में ही पवेलियन भेजकर चेन्नई का शीर्ष क्रम थर्रा दिया.

फाफ डुप्लेसिस 15 गेंदों पर पांच रन बनाकर उमेश की गेंद हवा में लहरा गये. पावरप्ले से पहले केदरा जाधव (नौ) भी पवेलियन लौट गये. उन्हें भी उमेश और एबी डिविलियर्स की जोड़ी ने आउट किया.

Related Posts

वेस्टइंडीज जाने वाली भारतीय टीम चुनी गयी, धोनी और हार्दिक को आराम, कई नये-पुराने चेहरे शामिल

विश्व कप के बाद टीम इंडिया अपनी पहली द्विपक्षीय सीरीज के लिए  वेस्टइंडीज जा रही है,

दस ओवर के बाद स्कोर चार विकेट पर 57 रन था. धोनी और रायुडु क्रीज पर थे. धोनी के पास तेजी से रन बनाकर उनके स्ट्राइक रेट की आलोचना करने वालों को जवाब देने जबकि रायुडु के पास विश्व कप की निराशा को भुलाकर अच्छी पारी खेलने का मौका था.

लेकिन रायुडु (29) ने अभी अपने हाथ खोलने शुरू ही किये थे कि चहले ने उनकी गिल्लयां गिरा दी. धोनी टिके रहे. अपनी पारी केा शुरू में स्टोइनिस पर छक्का लगाने वाले धोनी ने चहल की गेंद को छह रन के लिये भेजकर 16 ओवर में चेन्नई का स्कोर तिहरे अंक में पहुंचाया. उन्होंने स्टेन पर लांग आन पर छक्का लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया.

धोनी ने इसके बाद भी मोर्चा संभाले रखा लेकिन दूसरे छोर से उन्हें कोई सहयोग नहीं मिला. धोनी ने हालांकि अपने आलोचकों के मुंह बंद कर दिये.

इससे पहले बेंगलोर ने विराट कोहली (नौ रन) का विकेट जल्दी गंवा दिया. जिन्हें दीपक चाहर ने धोनी के हाथों कैच कराया. इसके बाद पार्थिव ने एबी डिविलियर्स (19 गेंदों पर 25) के साथ 47 और अक्षदीप नाथ (20 गेंदों पर 24) के साथ 41 रन की साझेदारियां की.

चेन्नई की तरफ से दीपक चाहर (25 रन देकर दो), रविंद्र जडेजा (29 रन देकर दो) और ड्वेन ब्रावो (34 रन देकर दो) ने दो . दो विकेट लिये.

डिविलियर्स और पार्थिव ने हालांकि जिस तरह से लंबे शॉट खेले उससे दर्शक आहलादित थे. लेकिन आखिर में डिविलियर्स को इसी तरह का शॉट खेलना महंगा पड़ा.

जडेजा की गेंद अधिक स्पिन लेकर उनके बल्ले के किनारे पर आयी और सीमा रेखा पर फाफ डुप्लेसिस ने उसे कैच कर दिया. अक्षदीप भी लगभग इसी तरह से पवेलियन लौटे. इस बार भी गेंदबाज जडेजा और क्षेत्ररक्षक डुप्लेसिस थे.

कोहली का पिछले मैच में धमाकेदार अर्धशतक जमाने वाले मोईन को ऊपरी क्रम में नहीं भेजने का फैसला अजीबोगरीब रहा. पार्थिव अर्धशतक पूरा करने के तुरंत बाद जब ब्रावो के शिकार बने तब मोईन ने क्रीज पर कदम रखा. उन्होंने आखिरी ओवर में आउट होने से पहले अपनी पारी में पांच चौके लगाये.

डुप्लेसिस ने इस बीच मार्कस स्टोइनिस (14) के छह रन के लिये जा रहे शॉट को अन्य फिल्डिंग के हाथों कैच में बदलावकर अपने शानदार क्षेत्ररक्षण का एक और परिचय दिया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: