न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

 धनबादः डायन-बिसाही के आरोप को लेकर महिला तांत्रिक की पिटाई 

टुंडी थाना में मामला दर्ज

142

Dhanbad: एक ओर भारत विकास की ओर उन्मुख है. लेकिन देश के ग्रामीण इलाके में आज भी अंधविश्वास का बोलबाला है. लोग इलाज की बजाये झाड़-फूंक और डायन-बिसाही जैसी चीजों पर भरोसा करते हैं, और इसे लेकर मारपीट तक हो जाती है. कुछ ऐसा ही मामला धनबाद के टुंडी में देखने को मिला.

 इसे भी पढ़ें-UPA शासनकाल में PM के PS रहे सीनियर IAS का भी झारखंड से मोह भंग

टुण्डी थाना क्षेत्र के आदिवासी बहुल गांव बदाई में गांव के ही रहने वाली एक तांत्रिक ने गांव के ही पांच लोगों को डायन करार दिया. जिस पर गांव वालों का गुस्सा फूट पड़ा और ग्रामीणों ने उस तांत्रिक की जमकर पिटाई कर दी.

hosp1

क्या है पूरा मामला 

दरअसल, आदिवासी बहुल गांव बदाई में नेपाल मांझी नामक बुजुर्ग की बीमारी के कारण मौत हो गयी. जिसके बाद उसकी पत्नी ने गांव में ही झाड़-फूंक करनेवाली एक महिला रासो मझीयान से इसका कारण जानना चाहा. इस पर महिला तांत्रिक रासो ने नेपाल की पत्नी और उसकी चार बहुओं पर डायन होने का आरोप लगाया. जिसे लेकर गांव में विवाद खड़ा कर हो गया. इस विवाद में जमकर मारपीट हुई. जिसमें एक युवक खौलते तेल से जलकर जख्मी हो गया.

डायन के आरोप से बौखलाये ग्रामीण

महिला तांत्रिक

गांव की पांच महिलाओं को डायन बताने पर उनके परिजन भड़क गये और महिला तांत्रिक के घर पहुंचे. इस दौरान ग्रामीणों और तांत्रिक के परिजनों के बीच झड़प हुई, जो बाद में मारपीट में बदल गई. वही इस दौरान गर्म तेल से रासो का बेटा झुलस गया.

जानें आखिर क्यों झारखंड से किनारा कर रहे आईएएस अधिकारी

तांत्रिक ने पुलिस में की शिकायत

घटना के बाद झाड़फूंक करने वाली महिला ने टुंडी थाना में इस मारपीट के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है. उसके बाद पुलिस ने गांव में आकर वस्तुस्थिति की जानकारी ली. वही घायल लड़के को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. फिलवक्त गांव में तनाव बरकरार है. घटना में अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

इसे भी पढ़ेंःIAS, IPS और टेक्नोक्रेटस छोड़ गये झारखंड, साथ ले गये विभाग का सोफासेट, लैपटॉप, मोबाइल,सिमकार्ड और आईपैड

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: