न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबाद: बजबजा रही हैं वार्ड 46 की नालियां, न चला विकास का पहिया न हुई सफाई

764

Anil Pandey
Dhanbad: नगर निगम चुनाव के पांच साल होने को हैं. अब जल्द ही नगर निगम चुनाव का बिगुल बजने वाला है. इन पांच वर्षों में नगर निगम क्षेत्र का कितना विकास हुआ, इसकी पड़ताल न्यूजविंग कर रहा है. इस कड़ी में हमने वार्ड 46 की स्थिति का जायजा लिया.

नगर निगम का वार्ड 46 कोलियरी क्षेत्र से घिरा हुआ है. पड़ताल के क्रम में हमने पाया कि यहां न तो विकास का पहिया चला और न ही सफाई हुई. वार्ड 46 के लोग आज भी नारकीय जिंदगी जीने को मजबूर हैं. कई घरों में अधूरे शौचालय का निर्माण हुआ तो कई लोगों को शौचालय बनाने के बाद भी रुपये नहीं मिले.

इसे भी पढ़ें- #jharkhandVidhansabha: बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी पर बैठाने की मांग पर अड़ी BJP, इरफान ने कहा – लज्जा है तो JVM की कुर्सी पर बैठें

शिकायत के बाद भी समस्या का नहीं हुआ समाधान

वार्ड 46 के सहाना पहाड़ी बस्ती में आज तक पार्षद और पार्षद प्रतिनिधि नहीं आये हैं. यहां की गलियां और नालियां गंदगी से बजबजा रही हैं. कई जगहों पर कूड़े-कचरे का ढेर लगा हुआ है. यहां कभी सफाई कर्मी नहीं आते हैं.

hotlips top

लोगों ने कई बार पार्षद रूपा देवी और इनके पति रवींद्र भुइयां से गुहार लगायी लेकिन इनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ. इस बस्ती में रहने वाले गौतम चौहान का कहना है कि जब से रूपा देवी पार्षद बनी हैं, तब से हमारे इलाके में साफ-सफाई नहीं हुई. कचरा उठाने के लिए कभी गाड़ी मुहल्ले में नहीं आती. हमने मामले की शिकायत वार्ड पार्षद से भी की लेकिन कोई हल नहीं निकला.

उन्होंने कहा कि नगर निगम की ओर से विभिन्न क्षेत्रों में सड़क और नालियों का निर्माण हो रहा है लेकिन हमारे यहां विकास के कोई काम नहीं हो रहे हैं. मुहल्ले के मंदिर में जल जमाव की समस्या है लेकिन उसको दुरुस्त करने की दिशा में भी कोई पहल नहीं की गयी.

इसे भी पढ़ें- #DelhiViolence में अब तक 38 की मौत, जाफराबाद जाएगी राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम

बरसात में घरों में घुस जाता है नाले का पानी

वहीं स्थानीय सोनिया देवी ने कहा कि सहना पहाड़ी में न साफ-सफाई होती है और न ही विकास का कोई काम होता है. यहां तक कि प्रधानमंत्री शौचालय योजना के तहत यहां शौचालय का निर्माण भी नहीं हुआ.

वार्ड 46 में किसी तरह का कोई विकास नहीं किया गया है. न नालियों का निर्माण कराया गया और न ही सड़क निर्माण का काम हुआ. वहीं साफ-सफाई भी नहीं करायी जाती है, जिसकी वजह से हर तरफ गंदगी देखने को मिलती है.

उन्होंने कहा कि हम कई बार पार्षद के पास समस्या लेकर गये लेकिन पार्षद और उनके पति सिर्फ आश्वासन देकर रह जाते हैं. आज तक काम कुछ हुआ ही नहीं. वहीं वार्ड 46 के घनुडीह दुर्गापुर बस्ती में वार्ड पार्षद के प्रति लोगों में आक्रोश दिखा. उन्होंने कहा कि मुहल्ले में गंदगी की समस्या है. साफ-सफाई नहीं होती है. नाली का निर्माण इस ढंग से करवाया गया है कि बरसात के दिनों में नाली का पानी घरों में घुस जाता है.

इसे भी पढ़ें- #ShareMarket खुलते ही हुआ धड़ाम, 1,100 अंक नीचे गिरा सेंसेक्स, निफ्टी में भी 300 से ज्यादा की गिरावट

शौचालय तो बना लेकिन नहीं लग पाया दरवाजा

दुर्गापुर खटाल पट्टी बस्ती की महिला लाली कुमारी और गायत्री देवी का कहना है कि यहां तो निगम के द्वारा कभी भी नालियों की सफाई या कचड़ा उठाव नहीं हुआ है. जिससे बीमारी फैलने का डर रहता है. नाली भी बनी तो सिर्फ दिखावे के लिए.

सुनीता देवी और अन्य महिलाओं ने भी पार्षद की कार्यशैली पर सवाल उठाये. उन्होंने कहा कि घरों में शौचालय तो बने हैं लेकिन उसमें दरवाजा नहीं लगाया गया. किसी में पाइप नहीं लगी तो किसी में टैंक नहीं बना.

गलत हैं आरोप: पार्षद पति

जब हमने इस संबंध में वार्ड पार्षद से बात की तो पार्षद रूपा देवी के पति रवींद्र भुइयां ने कहा कि ये सभी आरोप गलत हैं. हमारे पास 15 सफाई कर्मी हैं जिन्हें जगह-जगह लगाया जाता है. जहां तक शौचालय बनने और पैसे नहीं मिलने की बात है तो लोग हमारे पास आकर शिकायत करें. समस्या का समाधान होगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like