न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबाद : 12 को वोटिंग, 2378 बूथ पर रहेगी प्रशासन की पैनी नजर, 24 घंटा कार्यरत रहेगा कंट्रोल रूम

सुरक्षा के लिए बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ सहित रहेंगी 38 कंपनी मुस्तैद - एसएसपी

66

Dhanbad : लोकसभा चुनाव  को लेकर  12 मई, मतदान दिवस पर जिले के 2378 बूथो पर प्रशासन की पैनी नजर रहेगी. निष्पक्ष एवं स्वतंत्र चुनाव संपन्न कराने के लिए 6 सुपर जोनल दंडाधिकारी, 20 जोनल दंडाधिकारी, 260 सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा 145 माइक्रो ऑब्जर्वर की प्रतिनियुक्ति की गयी है . उक्त जानकारी आज समाहरणालय के सभाकक्ष में आयोजित प्रेस वार्ता में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त ने दी.  उपयुक्त ने कहा कि निष्पक्ष एवं स्वतंत्र चुनाव संपन्न कराने के लिए 238 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की जाएगी. साथ ही 425 वीडियो ग्राफर तथा 914 फोटोग्राफर भी मतदान के दिन बूथ पर जाकर वीडियोग्राफी एवं फोटोग्राफी करेंगे.

बताया कि शुक्रवार संध्या 4:00 बजे से प्रचार पूरी तरह बंद हो गया है। प्रचार शांतिपूर्ण रहा. कहा कि प्रचार के बाद ऐसे राजनीतिक कार्यकर्ता जो धनबाद के मतदाता नहीं है वे क्षेत्र को छोड़कर चले जाएंगे. जानकारी दी कि बाजार समिति, निरसा तथा धनबाद पॉलिटेक्निक में डिस्पैच सेंटर स्थापित किया गया है;  11 मई 2019 को मतदान दल इन डिस्पैच सेंटर से चुनाव सामग्री लेकर अपने अपने क्षेत्र की ओर प्रस्थान करेंगे.

इसे भी पढ़ें – 113 घोषणाओं पर खर्च होंगे 64,389 करोड़, राज्य की आमद सिर्फ 26,250 करोड़, कैसे पूरी होंगी घोषणाएं?

156 मतदान केंद्र अति संवेदनशील

बाजार समिति से बाघमारा व टुंडी,  निरसा से सिन्दरी व निरसा ओर धनबाद पॉलिटेक्निक से झरिया एवं धनबाद के मतदान दल चुनाव सामग्री लेकर प्रस्थान करेंगे. संवेदनशील, अतिसंवेदनशील तथा वल्नरेबल बूथ की जानकारी देते हुए  उपायुक्त ने बताया कि 111 मतदान भवन को अतिसंवेदनशील की श्रेणी में चिन्हित किया गया है.  156 मतदान केंद्र अति संवेदनशील है. संवेदनशील मतदान भवन की संख्या 929 है , तथा 1731 मतदान केंद्र संवेदनशील चिन्हित किए गए हैं. उपायुक्त ने बताया कि सेक्टर मजिस्ट्रेट के पास ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम लगे दो रिजर्व इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन रहेंगी.  इसकी लोकेशन को कभी भी जीपीएस से ट्रैक किया जा सकता है .

हर बूथ पर ब्लॉक लेवल ऑफिसर उपस्थित रहेंगे

SMILE

मतदाता अपने वोटर आईडी कार्ड के साथ चुनाव आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त अन्य पहचान पत्र लेकर अपने मताधिकार का प्रयोग करें.  हर बूथ पर ब्लॉक लेवल ऑफिसर भी उपस्थित रहेंगे.  हर बूथ पर प्रथम वोट डालने वाली महिला एवं पुरुष मतदाता को सम्मानित भी किया जाएगा. जिले में 23 सखी बूथ भी स्थापित किए गए हैं.  जहां मतदान कर्मी से लेकर सुरक्षाकर्मी तक महिलाएं रहेंगी. शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने के लिए कंट्रोल रूम की स्थापना की जाएगी. कंट्रोल रूम का नंबर 0326 – 2310091 तथा 0326 – 2311218 है। यह 11 मई 2019 से कार्यरत रहेगा.

38 कंपनी सुरक्षा बल तैनात

वरीय पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जिले में शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिए कुल 38 कंपनी सुरक्षा बल तैनात रहेंगे. जिसमें बीएसएफ की 11, सीआरपीएफ की 10, सीआईएसएफ की 5 तथा स्टेट आर्म पुलिस की 12 कंपनियां शामि‍ल हैं. संवेदनशील तथा अति संवेदनशील मतदान केंद्रों पर विशेष सुरक्षा के प्रबंध किए गए हैं. साथ ही नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में लगातार सघन जांच अभियान जारी है. अंदरूनी क्षेत्रों में भी पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं; एसएसपी ने कहा हर हाल में चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न होंगे.  प्रेस वार्ता में जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह उपायुक्त, वरीय पुलिस अधीक्षक श्किशोर कौशल, ग्रामीण एसपी  अमन कुमार, अपर जिला दंडाधिकारी विधि व्यवस्था श राकेश कुमार दुबे, उप निर्वाचन पदाधिकारी श्मृत्युंजय पांडे सहित अन्य  पदाधिकारी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – दल बदल मामले में चार विधायकों को हाई कोर्ट से मिला चार सप्ताह का समय  

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: