NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

धनबादः सांप काटे तो पहुंचे पीएमसीएच, बचने की संभावना 95 प्रतिशत

पीएमसीएच में एंटीवेनम भरपूर मात्रा में

174

Dhanbad: बरसात शुरू होते ही सांपों का निकलना आम हो जाता है. धनबाद जिले के चारों ओर ग्रामीण माहौल होने के कारण यहां प्रतिदिन सर्पदंश की घटना भी होती रहती है. केवल धनबाद के पीएमसीएच में प्रतिदिन औसतन 3 से 5 लोग सर्पदंश का शिकार होकर पहुंच रहे हैं. जून से बरसात शुरू होने से लेकर अब तक 281 लोग सर्पदंश का शिकार होकर पीएमसीएच पहुंच चुके हैं.

इसे भी पढ़ेंःबीमारी या बीमार सिस्टम ने ली पारा टीचर की जान ! तीन महीने से नहीं मिला था वेतन

इसमें निजी अस्पतालों के आंकड़े जोड़ लें तो संख्या तीन सौ के पार पहुंच जाएगी. सर्पदंश के कारण 13 लोगों की जान भी जा चुकी है, लेकिन इसे आंकड़ों की बानगी में परखे तो पाएंगे कि पीएमसीएच में इलाजरत सर्पदंश के शिकार मरीजों में 95 प्रतिशत से अधिक लोगों की जान बचाई जा चुकी है.

मिलते हैं कोबरा-करैत जैसे जहरीले सांप

धनबाद में पाए जाने वाले सांपों में कोबरा, करैत और रसेल वाइपर प्रजाति के सांप अधिक संख्या में पाए जाते है, जो काफी जहरीले होते हैं. यहां पाए जाने वाले बाकी सांप जानलेवा नहीं माने जाते. लेकिन यदि कोई भी सांप काट लें तो खुद विशेषज्ञ ना बने, ना ही झाड़-फूंक में समय व्यर्थ करें. डॉक्टर को दिखाकर उचित सलाह लें.
विशेषज्ञों की मानें तो धनबाद का मौसम और वातावरण सांप के लिए अनुकूल हैं. शुष्क वातावरण सांपों को पसंद है. यह इनके प्रजनन के लिए सबसे अच्छा मौसम होता है. धनबाद के विभिन्न इलाकों में ऐसा ही वातावरण रहता है. यहां जर्जर मकान और झाड़ी-जंगल भी अधिक है. जो सांपों को पसंद है.

इसे भी पढ़ेंःबोकारोः तालाब में तब्दील हुई सेक्टर-12 की मुख्य सड़क, लापरवाह बना रहा प्रबंधन

madhuranjan_add

पीएमसीएच में सुलभ, सस्ता इलाज

यदि सांप काट लें तो मरीज को पीएमसीएच ही लेकर आएं और इलाज करवाएं. क्योंकि धनबाद में सर्पदंश के शिकार का सबसे अच्छा इलाज पीएमसीएच में ही माना जाता है. यहां एंटीवेनम भरपूर मात्रा में उपलब्ध रहती है और विशेषज्ञ डॉक्टर भी मौजूद है. एंटीवेनम की कीमत बाजार में काफी अधिक है. गंभीर स्थिति में मरीज को एंटीवेनम की कई फ़ाइल देनी पड़ सकती है. इसलिए पीएमसीएच में इसका इलाज सुलभ, सस्ता और अच्छा होगा.

इसे भी पढ़ेंःप्रतिभा के धनी हरिवंश जी से सांसदों को सीखने का मौका मिलेगा : पीएम मोदी

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: