Crime NewsDhanbadJharkhandMain Slider

धनबाद: जेवीएम नेता व साइट इंचार्ज रंजीत सिंह की हत्या, पुलिस को पता था धमका रहे हैं गुंडे, कुछ नहीं किया

Dhanbad : एक बार फिर अपराधियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए कोयलांचल की धरती को लहू से लाल कर डाला. इस बार अपराधियों ने अपना निशाना जेवीएम युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष व आउटसोर्सिंग कंपनी बीकेबी के प्रबंधक रंजीत सिंह को बनाया. बताया जा रहा है कि रंजीत सिंह एक सप्ताह से अपने ऊपर ऐसी घटना होने की आशंका जाहिर कर रहे थे. कारण था उनका गैंग्स ऑफ वासेपुर के कुछ गुर्गों से रंगदारी को लेकर टशन चल रहा था. जिसकी जानकारी रंजीत लगातार  पुलिस अधिकारियों को भी दे रहे थें.

 वहीं रोज की तरह सोमवार की शाम भी रंजीत सिंह अपना काम खत्म कर केंदुआडीह थाना क्षेत्र के गोंदुडीह से अपने घर बनियाहिर स्विफ्ट डिजायर से जा रहे थे. इस बीच उनकी गाड़ी जैसे ही कुसुंडा रेलवे फाटक के पास बने जरकिंग पर धीमी हुई वैसे ही पहले से घात लगाए दो मोटरसाइकिल सवार चार अपराधियों ने उनपर गोलियां की बौछार कर डाली.

इसे भी पढ़ेंः न्यूजविंग इंपैक्टः महिला अफसर को परेशान करने का मामला, हजारीबाग DC से मांगी गई जानकारी 

मोटरसाइकिल सवार चार अपराधियों ने दिया घटना को अंजाम

वहीं प्रत्यक्षदर्शियों कि माने तो उसके बावजूद उनका ड्राइवर स्विफ्ट डिजायर भगाता रहा और अपराधी उनका पीछा कर गोलिया दागते रहे. रंजीत सिंह समेत दो लोग इस गोलीबारी में घायल हो गए. दूसरा घायल उनका साथी मुन्ना सिंह बताया जा रहा है. जिन्हें इलाज के लिए धनबाद के असर्फी अस्पतला भेजा गया. जहां इलाज के दौरान जेवीएम युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष व बीकेबी के साइट इंचार्ज रंजीत सिंह की मौत हो गई है.

इसे भी पढ़ें- PMCH के 400 कर्मचारी गये हड़ताल पर, मरीज पलायन को मजबूर

जेवीएम कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ की नारेबाजी

वहीं एक बार फिर धनबाद पुलिस एक और हत्याकांड के मामले की तफ्तीश में जुट चुकी हैं. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अस्पताल पहुंचकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर भड़ास निकालते हुए कहा कि अपराधी बेलगाम हो गए हैं, आए दिन जिसे पाते हैं उसे ही मौत के घाट उतार देते हैं. कानून नाम का चीज जिले में रह नहीं गया है. ऐसे पुलिस पदाधिकारी को रहना ना रहना बात बराबर है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं.आप हमेंफ़ेसबुकऔर ट्विटरपेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close