DhanbadJharkhand

#Dhanbad : लॉकडाउन के कारण पैसे की तंगी से जूझ रहा था परिवार, इलाज नहीं होने के कारण गर्भवती ने तोड़ा दम

Dhanbad : धनबाद सदर थाना क्षेत्र के आशीर्वाद क्लिनिक में शनिवार को एक गर्भवती महिला की मौत हो जाने के बाद अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया. महिला की मौत की सूचना मिलते ही आसपास के लोग क्लिनिक के पास जुटने लगे. महिला की मौत को लेकर लोग तरह-तरह की चर्चा भी कर रहे थे. महिला के परिजनों ने बताया कि लॉकडाउन के कारण काम-धंधा बंद हो गया था. पैसे की तंगी थी. जिस कारण समय पर महिला का इलाज नहीं हो पाया.

देखें वीडियो

इसे भी पढ़ें – चासनाला कोलियरी हादसा: सेल की इंटरनल टीम ने सौंपी शुरुआती जांच रिपोर्ट, उठे सवाल

लॉकडाउन के कारण बंद हो गया था काम, पास में नहीं थे पैसे

बताया जाता है कि महिला सदर थाना क्षेत्र के हिल कॉलोनी की रहनेवाली थी. महिला को लगभग आठ माह का गर्भ था. परिजनों ने बताया कि वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है. जिसकी वजह से अपनी बहू पूजा कुमारी को पीएमसीएच नहीं ले जा सके.

परिजन ने यह भी कहा कि इस लॉकडाउन के कारण काम भी पूरी तरह बंद है. पास में पैसे नहीं थे. स्थिति काफी दयनीय हो गयी है. पैसे की तंगी के कारण बहू की जान चली गयी. उन्होंने कहा आज अगर कोरोना वायरस का कहर नहीं होता तो लॉकडाउन नहीं लगता. और लॉकडाउन नहीं लगता तो कामकाज चलता और कामकाज चालू रहता तो पास में पैसे होते. जिससे बहू का इलाज अच्छे अस्पताल में करवा पाता.

इसे भी पढ़ें – #TTPS की क्षमता है 420 MW, उत्पादन हो सकता 390 MW, फिर क्यों कराया जा रहा 250 MW, साजिश या कमिशनखोरी?

समय पर इलाज नहीं होने के कारण हुई मौत

उन्होंने कहा कि बहू का बेहतर इलाज नहीं होने के कारण उसके हाथ पैर में सूजन आ गया था. जिसके बाद घर के लोगों ने पास के ही लिंडसे क्लब हीरापुर में एक निजी क्लीनिक से संपर्क किया. जहां महिला की सारी जांच हुई लेकिन शनिवार को इलाज के दौरान दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत हो गयी. वहीं आशीर्वाद क्लिनिक के चिकित्सक अशोक कुमार ने बताया कि महिला काफी बीमार थी. सही वक्त पर सही इलाज नहीं होने के कारण उसका ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ था.

इसे भी पढ़ें – #Lockdown : हिंदपीढ़ी व वहां के बाशिंदों को लेकर नये सिरे से सोचना होगा प्रशासन को

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: