Dhanbad

#Dhanbad में बारिश का कहरः दो घर जमींदोज, कई इलाकों में भरा पानी, रेल परिचालन भी प्रभावित

Dhanbad: झारखंड के कई जिलों में लगातार हो रही बारिश के कारण जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. वहीं धनबाद के कई इलाकों में पानी भर गया है. बरसात का पानी लोगों के घरों में भी घुस गया है.

लोग कमर तक भरे पानी में तैर कर आने-जाने को विवश हैं. हंस विहार कॉलोनी पूरी तरह पानी में डूब गया है. बरसात का पानी सड़क पर आ गया है. लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है.

advt

इसे भी पढ़ेंःयूपी में बारिश का कहर बरपा, अलग-अलग हादसों में 44 लोगों की मौत

दो घर जमींदोज

लगातार हो रही बारिश अग्नि और भू-धंसान प्रभावित क्षेत्र के लोगों को भी परेशानी में डाल दिया है. झरिया के लिलौरी पथरा में लगातार हो रही बारिश के कारण दो घर जमींदोज हो गये. जबकि कई घर क्षतिग्रस्त हो गये हैं.

बारिश के कारण होता गैस रिसाव

वहीं इलाके में गैस रिसाव भी हो रहा है जिस कारण लोग दहशत में हैं. धुएं से पूरा इलाका भर गया है. लोग डर के साये में यहां पर जीवन बसर करने को मजबूर हैं.

रेलवे ट्रैक के पास भू-धंसान, कई ट्रेनें लेट

दिलवा नाथ गंज के पास रेल ट्रैक के समीप भू-धंसान हो जाने के कारण कई ट्रेनें विलंब से चली. रात 2:45 बजे से सुबह 6:30 बजे तक अप और डाउन लाइन की गाड़ियों का परिचालन बाधित रहा. जिस कारण यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. इस दौरान करीब दर्जनभर गाड़ियां विभिन्न स्टेशनों पर रुकी रहीं.

adv

इसे भी पढ़ेंःपानी-पानी पटनाः भारी बारिश और जलजमाव के कारण जनजीवन प्रभावित, स्कूल बंद

घरों-दुकानों में घुसा पानी

लगातार हो रही बारिश के कारण हंस विहार कॉलोनी के समीप सड़क पर पानी भर गया. बरसात का पानी कई घरों और दुकानों में भी घुस गया. लोग कमर तक भरे पानी में तैर कर आने-जाने को मजबूर हैं.

बारिश के कारण नगर निगम की लापरवाही और शहर के ड्रेनेज सिस्टम की भी पोल खुल गयी है. स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर निगम का ड्रेनेज सिस्टम सही नहीं होने के कारण आज लोगों को यह दिन देखना पड़ रहा है.

 दीवार गिरने से तीन गाड़ियां क्षतिग्रस्त

जोड़ाफाटक में कब्रिस्तान की दीवार ढहने से वहां खड़ी तीन गाड़ियां बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयीं. बताया जाता है कि कांग्रेस नेता सचदेव पाठक की टाटा सफारी, होंडा अमेज के साथ आइएसएम के प्रमोद पाठक की स्विफ्ट डिजायर कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी.

राहत की बात ये रही कि ये घटना सुबह लगभग 6:30 बजे हुई और वहां आसपास लोग नहीं थे, जिस कारण जान का कोई नुकसान नहीं हुआ.

इसे भी पढ़ेंःक्यों है सबकी नजर, पाकुड़ विधानसभा सीट पर…

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button