DhanbadJharkhandLead NewsNEWS

अजय हत्याकांड में धनबाद पुलिस को जयमंगल हाजरा पर शक, अजय की पत्नी का आरोप- समीर की पत्नी ने कराई हत्या

Dhanbad : सरायढेला की बगुला बस्ती में सोमवार की रात शादी समारोह में शरीक हुए जमीन कारोबारी अजय पासवान की गोली मार हत्या कर दी गई. कार्मिक नगर में फ्लैट में रहने वाले अजय पासवान धनबाद के जाने-माने जमीन कारोबारी थे. हमलावर ने उनके पीछे से कनपटी में सटा कर गोली चला दी. गोली मारने वाले की पहचान बगुला बस्ती के प्रह्लाद हाजरा उर्फ मताल के रूप में हुई है. मताल के साथ जगरनाथ हाजरा उर्फ साधु भी था. जमीन कारोबार में दुश्मनी को हत्या का कारण माना जा रहा है.

 

वहीं इस हत्याकांड मामले में पुलिस बगुला बस्ती के ही जयमंगल हाजरा को खोज रही है. यह वही जयमंगल हाजरा है, जिस पर अजय के पार्टनर समीर मंडल की हत्या की साजिश रचने का भी आरोप लगा था. पुलिस को जानकारी मिली है कि अजय पर गोली चलाने वाले प्रह्लाद और जगरनाथ जयमंगल हाजरा के साथ उठते-बैठते हैं. यहां बता दें कि 23 जुलाई 2019 को अजय पासवान के पार्टनर समीर मंडल की भी सरायढेला के वीरकुंवर नगर में गोली मार कर हत्या कर दी गई थी.

 

समीर मंडल हत्याकांड में जयमंगल हाजरा के खिलाफ चार्जशीट सौंपी गई थी. इस कांड में वह जेल भी गया था. चार्जशीट में आरोप है कि जयमंगल ने बगुला बस्ती में 1.52 एकड़ जमीन के लिए जमीन कारोबारी समीर की हत्या की साजिश रची थी. यह जमीन हाजरा के घर के ठीक सामने थी. हाजरा उस जमीन को लेने के लिए रैयतों से सौदा कर रहा था.समीर और अजय ने इस जमीन के रैयतों से वास्तविक मूल्य का डेढ़ गुना ज्यादा रकम देकर एग्रीमेंट करा लिया था. जयमंगल ने समीर और अजय को यह जमीन लेने से मना किया था. दोनों ने बात नहीं मानी तो समीर की हत्या करा दी. इसलिए अजय पासवान की हत्या में भी जयमंगल पर पुलिस का शक गहरा गया है.

 

अजय की पत्नी का आरोप- समीर की पत्नी ने कराई हत्या

 

इधर, अजय पासवान की पत्नी अंजलि पासवान ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि उनके पति की हत्या में स्व. समीर मंडल की पत्नी स्वीटी मंडल और उसके पिता का हाथ है. पुलिस गहराई से इसकी जांच करे. सीएनटी की वजह से समीर की मौत के बाद कई जमीन पर स्वीटी ने कब्जा जमा लिया. न्यायालय में विवाद भी चल रहा है. 12 दिसंबर को इस केस में डेट भी है.

 

मालूम हो कि धनबाद पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुका जेसी मल्लिक रोड निवासी आशीष रंजन उर्फ छोटू सिंह और धनबाद जेल में बंद सतीश गुप्ता उर्फ गांधी पर समीर मंडल पर गोली चलाने का आरोप है. समीर की हत्या के बाद ही अपराध की दुनिया में आशीष और गांधी के नाम का सिक्का बुलंद हुआ. जयमंगल हाजरा ने गांधी और आशीष को काशीटांड़ और बगुला बस्ती की जमीन में 50 प्रतिशत की पार्टनरशिप का लालच दिया था. दोनों को हत्या की सुपारी के रूप में 10-10 लाख रुपए देने का भी वादा किया था.

 

छद्म नाम पर कारोबारियों को धमकी देकर भयादोहन करने की मची होड़ :

छद्म नाम पर कारोबारियों को धमकी देकर भयादोहन करने की धनबाद में होड़ मच गई है. रविवार को बैंक मोड़ के विकास नगर में कोयला कारोबारी पप्पू मंडल के घर हुई फायरिंग में अमन सिंह व रिंकू सिंह का गुर्गा छोटू सिंह के नाम का पर्चा फेंका गया था. घटना के एक दिन बाद एक वीडियो जारी कर कुख्यात प्रिंस खान के गुर्गे ने इसे छोटे सरकार की करतूत बताई. पिस्टल और कार्बाइन से लैस होकर एक नकाबपोश ने वीडियो जारी किया है. वीडियो में वह कह रहा है कि छोटे सरकार की बोली और मेजर की गोली से सबको डरना होगा. वह कतरास के मार्बल कारोबारी की दुकान और पप्पू मंडल के घर पर हुई फायरिंग का श्रेय ले रहा है. कारोबारी दहशत में हैं.

Related Articles

Back to top button