Crime NewsDhanbad

धनबाद : NIA की टीम ने रिकवरी एजेंट उपेंद्र के घर से 1.46 लाख नकदी समेत डिजिटल उपकरण किया जब्त

Dhanbad : माओवादियों, कुख्यात अपराधियों को हथियार-कारतूस सप्लाई करने के मामले का अनुसंधान कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की दिल्ली और रांची की टीम ने बुधवार सुबह धनबाद के चर्चित वाहन रिकवरी एजेंट उपेंद्र सिंह के घर पर धावा बोल दिया. धनबाद के बिनोद बिहारी चौक के समीप पाल नगर में उपेंद्र सिंह का घर है. घर के अंदर प्रवेश करने के लिए NIA को कोफी देर तक इंतजार करना पड़ा. इसके साथ NIA ने उपेंद्र सिंह के मटकुरिया स्थित BCCL आवास में भी छापेमारी की. बुधवार की सुबह छह बजे से NIA की टीम ने घर की घेराबंदी कर दो बजे तक छापेमारी की.

मिली जानकारी के मुताबिक, यहां से NIA को एक लाख 46 हजार रुपये नकदी, डिजिटल उपकरण जिनमें लैपटॉप, सेलफोन, कंप्यूटर व डिजिटल स्टोरेज उपकरण तथा संदिग्ध दस्तावेज व कारतूस रखने के बॉक्स बरामद किया है. NIA की टीम सभी जब्त सामान की जांच कर रही है. NIA की रांची शाखा में दर्ज प्राथमिकी के अनुसंधान के सिलसिले में यह छापेमारी हुई है.

पूरा केस केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के हथियार व कारतूस की झारखंड के माओवादियों व आपराधिक गिरोह तक सप्लाई का है. झारखंड पुलिस के आतंकवाद निरोधक दस्ते में 14 नवंबर को इस मामले में प्राथमिकी दर्ज हुई थी.

हथियार व कारतूस की सप्लाई में सीआरपीएफ व बीएसएफ के जवानों की संलिप्तता मामले में झारखंड पुलिस की आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS) में दर्ज हथियार तस्करी के केस को टेकओवर करते हुए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की रांची शाखा ने गत नौ दिसंबर को प्राथमिकी दर्ज की थी. हथियार सप्लाई के इस प्रकरण में सीआरपीएफ व बीएसएफ से जुड़े तीन जवानों की भी झारखंड ATS ने गिरफ्तारी की थी, जिनके खिलाफ अब एनआइए अनुसंधान कर रही है.

बता दें कि रिकवरी एजेंट उपेंद्र सिंह हाल ही में धनबाद जेल से रिहा हुआ है. वह अपने रिश्तेदार पर गोली चलवाने के आरोप में जेल गया था.

 

इसे भी पढ़ें : धनबाद में भी लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले, बुधवार को मिले 30 नये संक्रमित

Advt

Related Articles

Back to top button