DhanbadKhas-Khabar

#Dhanbad: यौन शोषण केस में MLA ढुल्लू महतो को नहीं मिली अग्रिम जमानत,पड़ोसी से मारपीट मामले में राहत

Dhanbad: महिला से दुष्कर्म के आरोप के मामले में बाघमारा विधायक को कोर्ट से झटका लगा है. मामले में गिरफ्तारी से राहत नहीं देते हुए धनबाद कोर्ट ने विधायक की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है.

हालांकि कोर्ट से विधायक ढुल्लू महतो को थोड़ी राहत जरूर मिली है. पड़ोसी डोमन महतो के साथ मारपीट के मालमे में समझौते के आधार पर उन्हें जमानत मिल गई है.

इसे भी पढ़ेंःरामगढ़: 8 महीने बाद भी शोभा हत्याकांड की गुत्थी नहीं सुलझा पायी पुलिस

SIP abacus

यौन शोषण केस में अग्रिम जमानत याचिका खारिज

Sanjeevani
MDLM

बता दें कि कमला देवी यौन शोषण मामले में बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो की ओर से अग्रिम जमानत याचिका दायर की गई थी. जिस पर शनिवार को सुनवाई हुई. सुनवाई करते हुए एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशन जज राजीव कुमार ने विधायक ढुल्लू महतो की जमानत याचिका को खारिज कर दिया.

एडीजे राजीव कुमार की कोर्ट ने खारिज की ढुल्लू की अग्रिम जमानत याचिका

 

 

इस मामले में एसडीजीएम कोर्ट द्वारा वारंट जारी किया गया है. अब हर हाल में विधायक ढुल्लू महतो को कोर्ट में सरीर उपस्थित होना होगा. वही मामले में विधायक के वकील ने कहा कि वो इस फैसले के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील करेंगे.

बता दें कि दुष्कर्म की कोशिश करने के मामले में पीड़ित महिला के द्वारा 6 अक्टूबर 2019 को कतरास थाने में ढुल्लू महतो के खिलाफ नामजद प्राथमिकी (कांड संख्या 178/19) दर्ज करायी गयी थी. विधायक को आइपीसी की धारा 354, 376, 511, 504, 34 के तहत आरोपित किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःधनबाद: वार्ड 36 में नगर निगम के दावे फेल, न होती सफाई और न है सामुदायिक शौचालय

मारपीट के केस में मिली अग्रिम जमानत

वही बाघमारा में बने रामराज मंदिर के जमीनी विवाद में पड़ोसी डोमन महतो द्वारा मामला दर्ज कराया गया था. इस मामले में भी शनिवार को कोर्ट ने सख्ती दिखाई है.

हालांकि, इस मामले में बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो को अग्रिम जमानत तो मिल गई है. लेकिन न्यायिक प्रक्रिया से उन्हें गुजारना पड़ेगा. न्यायालय ने 10 दिन के अंदर कोर्ट में बॉन्ड पेपर दाखिल करने के लिए सशरीर उपस्थित होने का आदेश दिया है.

गिरफ्तारी के डर से छुपते चल रहे ढुल्लू

गिरफ्तारी से डर रहे भाजपा विधायक ढुल्लू महतो को धनबाद कोर्ट से राहत नहीं मिली है. फिलहाल बाघमारा विधायक फरार हैं. ढुल्लू की गिरफ्तारी के लिए 19 फरवरी को उनके चिटाही स्थित आवास को पुलिस ने छावनी में बदल दिया था, लेकिन इससे पहले ही ढुल्लू फरार हो गये थे.

जिसके बाद से ही पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं. आखिर ढुल्लू को देर रात शुरू हुई पुलिसिया कार्रवाई की भनक कैसे लग गयी, और वो आधी रात को घर से फरार हो गये. कतरास थाना कांड संख्या 178 /2019 के तहत दर्जन भर से ज्यादा पुलिस कर्मी बड़े अधिकारियों के साथ ढुल्लू महतो की गिरफ्तारी के लिए बाघमारा के चिटाही पहुंचे थे.

करीब आधे घंटे की जद्दोजहद के बाद भी उनके घर पहुंची धनबाद पुलिस ढुल्लू को गिरफ्तार नहीं कर सकी क्योंकि इससे पहले ही वो फरार हो गये थे. हालांकि पुलिस ने औपचारिकता निभाने के लिए ढुल्लू के आवास की गहनता से तलाशी ली थी.

50 से अधिक जगहों पर ढुल्लू की तलाश में छापेमारी

बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो पिछले 18 दिनों से फरार है. इस बीच धनबाद पुलिस लगातार उसकी तलाश में छापेमारी कर रही है. लेकिन उनका फिलहाल कोई सुराग नहीं मिल पाया है. इस दौरान पुलिस ढुल्लू की तलाश में 50 से अधिक संभावित जगहों पर छापेमारी कर चुकी है.

पुलिस लगातार अलग-अलग टीम बनाकर तीन राज्यों में उन्हें तलाश रही है. लेकिन ढुल्लू महतो पुलिस के हाथ अभी तक नहीं लगे हैं. हालांकि,इस दौरान ढुल्लू के कई समर्थकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

इसे भी पढ़ेंःरामगढ़: 8 महीने बाद भी शोभा हत्याकांड की गुत्थी नहीं सुलझा पायी पुलिस

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button