DhanbadJharkhand

जीजा ने पढ़ाई के नाम पर साली को बुलाया और बना लिया बंधक

Dhanbad:  एक जीजा द्वारा अपनी साली को अच्छे शैक्षणिक संस्थान में दाखिला दिलाने के बहाने धनबाद बुलाकर घर में बंधक बनाने का सनसनी खेज मामला प्रकाश में आया है. यह खुलासा तब हुआ, जब पीडि़ता के परिजन छत्तीसगढ़ से धनबाद अपनी बेटी को वापस लेने धनबाद पहुंचे.

इसे भी पढ़ेंः पलामू: पीडब्लूआई के बंद क्वाटर्र से आठ लाख की चोरी, रेलवे क्वाटर्र में अबतक चोरी की चार वारदात

लड़की के मां-बाप को घर में घुसने भी नहीं दिया

आरोपित जीजा जगजीवन नगर निवासी राजू साव ने अपनी साली 19 वर्षीय आरती कुमारी को उसके परिजनों को सौंपने से इन्कार कर दिया. परिजनों के बार-बार मिन्नत करने के बावजूद दमाद राजू साव व परिवार के अन्य सदस्यों ने उन्हें न तो घर में घुसने दिया न ही अपनी बेटी से मिलने दिया. थक हारकर युवती के पिता सरायढेला थाना पहुंचे. थाना में भी उनकी सुनवाई नहीं हुई और उन्हें महिला थाना जाने की सलाह दी गयी.  परिजनों ने धनबाद महिला थाना पहुंच मामले की लिखित शिकायत की है.

advt

इसे भी पढ़ेंः फरवरी से रुका है पारा शिक्षकों का मानदेय, मुख्यमंत्री से मिले हो गया एक माह, अब तक नहीं हुआ भुगतान

बड़ी बहन को दी जान से मारने की धमकी

पूछताछ में छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले से धनबाद पहुंचे लड़की के माता-पिता व अन्य रिश्तेदारों ने पुलिस को बताया कि जब आरोपित दामाद पर बेटी सौंपने का दबाव बनाया तब उसने उनकी बड़ी बेटी (अपनी पत्नी) को जान से मारने की धमकी दी. लड़की के माता-पिता ने जपुलिस को बताया कि उनकी बेटी की शादी राजू साव से वर्ष 2013 में हुई थी. इसके बाद आरोपित दामाद उनकी छोटी बेटी को अच्छी पढ़ाई करवाने के बहाने अपने साथ धनबाद ले आया. रिश्तेदार होने के कारण परिजनों ने भी बिना किसी संदेह के अपनी बेटी को सौंप दिया, ताकि वह अच्छे संस्थान में पढ़ाई करे.

तय हो गयी थी लड़की की शादी

इसी बीच छोटी बेटी की भी शादी दामाद के चचेरे भाई से तय कर दी गई थी, लेकिन शादी तय होने से आरोपित दामाद राजू साव नाराज था. जब परिजनों ने शादी की बात आगे बढ़ाई तो आरोपित दामाद ने अपनी साली को बंधक बना लिया. उसका कहना है कि वह अपनी साली की शादी नहीं होने देगा. वह उसके साथ ही रहेगी.

 बेटी से मिलने के लिए थाना का चक्कर काट रहे माता-पिता

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले के अंबिकापुर से धनबाद पहुंचे माता पिता अपनी बेटी से अब तक नहीं मिल पाए हैं. वह उसे मिल कर बात करना चाहते हैं, लेकिन आरोपित उन्हें अपने घर में घुसने नहीं दे रहा, जिसके कारण परिजन थाना का चक्कर काट रहे हैं.

adv

इसे भी पढ़ेंः पूर्व पेशकार से 10 हजार रुपये छिनतई, उचक्के की कारगुजारी सीसीटीवी में कैद, देखें फुटेज

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button