DhanbadJharkhand

धनबाद : झरिया मातृ सदन में गर्भवती महिला की मौत, अस्पताल में हंगामा

Dhanbad : झरिया के धर्मशाला रोड चार नंबर के पास स्थित मातृ सदन अस्पताल में शुक्रवार की देर शाम 21 वर्षीय महिला सोनम खातून व उसके बच्चे की मौत पर मृतका के पति मोहम्मद सोनू व परिजनों ने इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाकर अस्पताल में हंगामा व तोड़फोड़ किया. अस्पताल के कर्मियों ने इसकी जानकारी झरिया थाना पुलिस को दी. पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले को शांत कराया.

कुसुंडा हाजरा बस्ती निवासी मोहम्मद सोनू ने पत्नी सोनम खातून (21 वर्ष) को इलाज के लिए 2 दिन पहले झरिया के मातृ सदन अस्पताल में भर्ती कराया था. वह साढ़े छह माह की गर्भवती थी. चिकित्सक रुकसाना खातून ने कहा कि अल्ट्रासाउंड करना पड़ेगा. बच्चे की धड़कन कम है. सोनम खातून का अल्ट्रासाउंड कराया गया. जिसमें पता चला कि गर्भ में ही बच्चे की मौत हो चुकी है. परिजनों ने डॉक्टर से बच्चे की मां को हर हाल में बचाने की बात कही. पर दूसरे दिन भी चिकित्सक ने बच्चे को मां के गर्भ से बाहर नहीं निकाला. अचानक शाम को अस्पताल के कुछ कर्मी आए और एक कागजात में हस्ताक्षर करने को कहा. कर्मियों ने कहा कि महिला की हालत गंभीर है उसे धनबाद रेफर करना होगा. जब अपनी पत्नी को देखने गए तो वह मर चुकी थी.

advt

इससे महिला के पति मोहम्मद सोनू व उसके परिजन अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ भड़क गए और अस्पताल के कर्मचारी व चिकित्सक के साथ नोकझोक हो गई. अस्पताल के अंदर कुर्सी- टेबल भी तोड़ डाला. परिजनों का कहना था कि चिकित्सक की लापरवाही के कारण ही महिला की मौत हुई है.

आक्रोशित लोगों ने डाक्टर से वार्ता करने की मांग की. पुलिस ने अस्पताल इंचार्ज मकसूद आलम से लोगों की वार्ता कराई. मृतक के परिवार वालों ने गर्भवती महिला की मौत कैसे हुई इसकी जानकारी ली. मकसूद आलम ने पीड़ित परिवार को बताया कि बच्चा पहले ही पेट में मर गया था. इलाज के दौरान सदमे में आने की वजह से महिला की मौत हो गई थी. मकसूद व आक्रोशित लोगों में काफी नोकझोंक हुई. पुलिस ने किसी तरह मामले को शांत किया. मृतक सोनम के पति मो. सोनू ने कहा कि अस्पताल व डाक्टर के खिलाफ वरीय अधिकारी से लिखित शिकायत करेंगे.

मातृ सदन अस्पताल इंचार्ज आलम ने मीडिया से कहा कि इलाज के दौरान महिला की जांच हुई. जांच में हिमोग्लोबिन काफी कम था. जांच में पता चला कि बच्चा पेट में पूर्व में ही मर गया था. हमलोग महिला को बचाने की कोशिश कर रहे थे. महिला का ब्लड प्रेशर बढ़ जाने से उसकी मौत हो गई.

इसे भी पढ़ें : पोटका सीआई से मारपीट के आरोपी ने दर्ज कराया काउंटर केस, रॉड से मारकर हाथ तोड़ने का आरोप

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: