DhanbadJharkhand

धनबाद : 3 माह बाद लिवर ट्रांसप्लांट कराकर लौटा मासूम आरव, इलाज के लिए लोगों ने जुटाए थे 25 लाख

Dhanbad : धनबाद के लोगों की हिम्मत से 4 माह के मासूम आरव को इलाज के लिए 25 लाख रुपये की मदद मिल गई. इस पैसे से वह मौत को मात देकर जिंदगी की जंग जीत गया. बुधवार की सुबह बच्चा लिवर ट्रांसप्लांट कराने के बाद वेल्लोर से सकुशल धनबाद वापस लौट आया. बच्चे का इलाज करीब तीन महीने तक चला. धनबाद रेलवे स्टेशन पहुंचने पर शहर के लोगों ने फूल माला पहनाकर बच्चे का स्वागत किया.

ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : आग तापते समय 10 साल की बच्ची झुलसी, घर पर थी अकेली 

आरव को लिवर की बीमारी से परेशानी थी. चार माह के मासूम बच्चे आरव को इलाज के लिए लिवर ट्रांसप्लांट कराने की आवश्यकता था. इसमें करीब 25 लाख रुपये का खर्च आ रहा था. सरकारी मदद के बावजूद यह राशि पूरी नहीं हो पा रही थी. धनबाद के लोगों ने सामूहिक रूप से परिवार की आर्थिक मदद की. इससे यह राशि महज 40 दिन के अंदर एकत्र हो गई. जिससे उसका इलाज करवाया गया.

मामला अगस्त 2021 का है. धनबाद में धनसार थाना क्षेत्र के रहने वाले एक माता-पिता अपने चार माह के नवजात की लिवर की बीमारी से परेशान थे. वो मासूम आरव के इलाज कराने में असमर्थ थे. डॉक्टरों ने 40 दिन के अंदर 25 लाख रुपए की व्यवस्था करने के लिए कहा था. बच्चे का इलाज रांची के रिम्स में चल रहा था. बच्चे आरव की मां का नाम रानी देवी है. पिता का नाम अजय कुमार है.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष सुनील अग्रवाल के भतीजे की सड़क हादसे में मौत, चार जख्मी

वह शादी-विवाह और जन्मदिन के समारोह में चाट बनाने का काम करते हैं. आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण यह परिवार अपने बच्चे का इलाज नहीं करा पा रहा था. चिकित्सकों ने बच्चे का लिवर ट्रांसप्लांट करने की जरूरत बताई थी. ऑपरेशन के पंद्रह दिन बचे थे. परिवार किसी तरह 13 लाख रुपए की व्यवस्था कर सका. पांच लाख रुपए स्वास्थ्य विभाग की ओर से असाध्य रोग निधि के तहत दिया गया. तीन लाख रुपए प्रधानमंत्री राहत कोष से देने की बात हुई. ढाई लाख रुपए आम लोगों ने दिये. इसके बाद भी राशि पूरी नहीं हो रही थी.
इसके बाद बच्चे की जान बचाने के लिए धनबाद शहर के सभी लोगों ने मिलकर अभियान चलाया. देखते ही देखते पंद्रह दिनों में राशि एकत्र हो गई.

इसे भी पढ़ें : किसान आंदोलनः न तो संसद में सुलह के आसार, न ही किसान सड़क से हटने को तैयार

Advt
Advt

Related Articles

Back to top button