DhanbadJharkhand

धनबाद : हीरापुर इलाके में भारी बवाल के बीच पार्क मार्केट से हटाया गया अवैध अतिक्रमण

Dhanbad: हीरापुर इलाके में गुरुवार को अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाए जाने पर स्थानीय दुकानदारों ने इसका तीखा विरोध किया. दुकानदारों ने प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. एक सप्ताह के अंदर दूसरी बार धनबाद नगर निगम की टीम ने जेसीबी लगाकर पार्क मार्केट हीरापुर में अवैध अतिक्रमण को ध्वस्त किया. अमीन ने सड़क के दोनों ओर मापी की. इसमें पाया गया कि सभी दुकानदारों ने पांच से 10 फीट तक सड़क पर अवैध कब्जा कर रखा है. सिर्फ कब्जा ही नहीं किया, बल्कि फुटपाथ घेरकर पक्का निर्माण कर सीढ़ी भी बना ली गई है. इसे तोड़ा गया. अतिक्रमण करनेवालों के साथ-साथ चैंबर के लोगों ने भी नगर निगम की टीम का विरोध किया. भारी बवाल और हो-हंगामे के बीच यहां से अतिक्रमण हटाया गया.

25 दुकानों से हटाया गया अतिक्रमण

पार्क मार्केट हीरापुर में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करने पहुंचे सीओ प्रशांत लायक और नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारी मो अनीस, फूड इंस्पेक्टर अनिल कुमार समेत टीम ने जैसे ही फुटपाथ और सड़क पर पक्के निर्माण को जैसे ही तोड़ने की प्रक्रिया शुरू की, चैंबर के लोग विरोध करते हुए सामने खड़े हो गए. इस दौरान लगभग एक घंटे तक कार्य अवरुद्ध रहा. अतिरिक्त फोर्स बुलाई गई. इसके बाद अवैध निर्माण निगम ध्वस्त किया गया. लगभग 25 दुकानों के सामने से अवैध अतिक्रमण ध्वस्त किया गया. सभी को चेतावनी भी दी गई कि अब अगर अवैध निर्माण हुआ तो सीधे प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. इसके साथ ही अवैध निर्माण तोड़ने में जो भी खर्च आएगा, वह भी संबंधित दुकानदार से ही वसूला जाएगा.

इसे भी पढ़ें: मनी लाउंड्रिंग मामला : अधिवक्ता राजीव कुमार के मामले में बहस पूरी, फैसला आज आने की उम्मीद!

दुकानदारों ने लगाया आरोप

स्थानीय दुकानदारों ने बताया कि त्योहार के समय दुकानदारी का होता है लेकिन, प्रशासन के द्वारा जानबूझकर त्योहार के समय ही इस प्रकार का कार्य किया जाता है. उन्हें अतिक्रमण सिर्फ त्यौहार के ही समय दिखता है, उससे पहले नहीं. स्थानीय दुकानदारों ने कहा कि सरकारी अधिकारी खुद ही कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं तो अब न्याय की फरियाद कहां करें. फुटपाथ दुकानदारों का कहना था कि जब हमें हटाया गया है तो बड़े दुकानदारों द्वारा किया गया अतिक्रमण भी हर हाल में टूटना चाहिए. बड़े दुकानदार तो अपनी दुकान के आगे किराया तक वसूल रहे हैं. 1000 से 2000 रुपये प्रति माह तक ठेले खोमचा वालों से वसूल करते हैं.

नगर निगम ने आरोपों का किया बचाव

धनबाद नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि त्योहार के समय ज्यादा लोग घरों से निकलते हैं. सड़कों पर ही दुकान लगने के कारण गाड़ियों को भी सड़कों पर ही जहां-तहां खड़ी कर दी जाती है. ऐसे में जाम की समस्या बनी रहती है. शहर का हीरापुर इलाका हो या बैंक मोड़ इलाका सभी जगह इस प्रकार की स्थिति बनी रहती है. बैंक मोड़ में भी बीते दिनों गाड़ी का चालान काटने पर व्यापारियों के द्वारा जमकर हंगामा किया गया था. ऐसे में प्रशासन आखिर किस प्रकार काम करें. जाम और कानून सम्मत आधार के कारण ही इस प्रकार का अतिक्रमण अभियान चलाया जा रहा है.

 

प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ होगी FIR

कार्यपालक पदाधिकारी अनीस ने बताया कि जेसीबी रोककर प्रदर्शन करने वाले लोगों की पहचान की जा रही है. इन सभी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी. सरकारी कार्य में बाधा डालने का प्रयास चैंबर के लोगों ने किया. इधर, सीओ प्रशांत लायक और कार्यपालक पदाधिकारी अनीस ने कहा कि चैंबर के सदस्‍य बेवजह विरोध कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि अतिक्रमण हर हाल में तोड़ा जाएगा. इधर, पिछले सप्ताह यहां से 30-40 फुटपाथ दुकानदारों को हटाया गया था. आज जब कार्रवाई हो रही थी तो वह फुटपाथ दुकानदार भी नगर निगम की कार्रवाई के समर्थन में खड़े हो गए.

 

Related Articles

Back to top button