DhanbadJharkhand

#Dhanbad : भूमि पूजन के दौरान चली गोली, आधा दर्जन लोग घायल, पुलिस ने चटकायी लाठियां

Dhanbad : बलियापुर थानांतर्गत कांड्रा स्थित मारसलिंग यार्ड में भूमि पूजन के दौरान हुए विवाद में एक बार फिर गोली चलने की बात सामने आ रही है. गोली चलने के बाद झड़प और मारपीट भी हुई.

मारपीट के बाद स्थिति काफी तनावपूर्ण है. घटना की जानकारी पास के थाने को मिली. जानकारी मिलते ही दल बल के साथ सिंदरी डीएसपी घटनास्थल पर पहुंची और मामला शांत कराने में जुट गयी.

इसे भी पढ़ें : #RanchiPolice की लचर पुलिसिंग के चलते कई चर्चित मामले फाइलों में हो गये दफन

Catalyst IAS
ram janam hospital

छह से ज्यादा लोग हुए घायल

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani


वहीं इस दौरान भूमि पूजन कर रहे आदिवासी समाज के उप मुखिया राजेन्द्र हेंब्रम पर जानलेवा हमला किया गया है. इस घटना में लगभग छह से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

घटना को लेकर स्थानीय समाजसेवी मोती लाल रवानी की मानें तो धनबाद के बलियापुर थाना क्षेत्र के परसबनिया पंचायत में लोडिंग प्वाइंट के बगल में आदिवासी समाज के उप मुखिया राजेन्द्र हेम्ब्रम जमीन एग्रीमेंट करा कर हेमंत सरकार द्वारा दिये जा रहे सूअर पालन की योजना का लाभ उठाना चाहते थे.

इसके लिए राजेन्द्र अपनी एग्रीमेंट वाली जमीन पर भूमि पूजन कराने पहुंचे थे. इसी दौरान आदित्य और गांधी नामक व्यक्ति उक्त स्थल पर पहुंचे और राजेन्द्र पर जानलेवा हमला कर दिया.

इस घटना के बाद स्थानीय लोग उग्र हो गये और घटना स्थल पर पहुंचकर मारसलिंग यार्ड के मजदूरों को खदेड़ कर राजेन्द्र का बीच बचाव किया.

इसे भी पढ़ें : धनबाद : अपहरण के प्रयास मामले में ढुल्लू महतो के बड़े भाई सहित पांच पर मामला दर्ज,एक को भेजा गया जेल 

मारपीट से स्थानीय लोगों में आक्रोश

#Dhanbad : भूमि पूजन के दौरान चली गोली, आधा दर्जन लोग घायल, पुलिस ने चटकायी लाठियां
घटना के बाद तैनात पुलिस.

राजेंद्र की पिटाई से स्थानीय लोगों में मारसलिंग यार्ड के मजदूरों के प्रति काफी आक्रोश है. साथ ही समाज सेवी मोती लाल ने यह भी कहा कि घटना स्थल पर पहुंची पुलिस भी स्थानीय लोगों के साथ ही मारपीट कर गाड़ी में बैठा रही है.

सूत्रों की मानें तो इस मारसलिंग यार्ड में अवैध तरीके से छाई की लोडिंग होती है जिसके लिए यहां वर्चस्व की लड़ाई हो रही है.

इस मामले में सिंदरी एसडीपीओ अजित कुमार ने कहा कि जमीन विवाद को लेकर दो पक्षो में मारपीट हुई थी. वक्त रहते पुलिस ने मामले को शांत करा दिया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है. वहीं गोली चलने की बात को एसडीपीओ ने खारिज कर दिया है.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह: पारसनाथ के जैन संस्था भवन में ब्लास्ट, नक्सलियों के हाथ होने का शक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button