DhanbadJharkhand

धनबाद : जनधन खाते में आयी राशि निकालने के लिए उमड़ी भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा ख्याल

Dhanbad : कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए देशभर में 21 दिनों का लॉकडाउन किया गया है. जिससे रोज कमाने खाने वालों के लिए परेशानी हो गयी है. ऐसे लोग कई तरह की समस्याओं से जूझ रहे हैं. इस समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने गरीबों के लिए कई तरह की घोषणाएं की हैं.

इस घोषणा में जनधन खाते में 500 रूपये भेजने की भी घोषणा की गयी है. जो शुक्रवार से जनधन खाताधारकों के खाते में आने लगे हैं. इस रकम की निकासी के लिए बैंकों के बाहर खाताधारकों की बड़ी भीड़ इकट्ठा होने लगी है.

Catalyst IAS
SIP abacus

इसे भी पढ़ें – 33 साल बाद भी ‘रामायण’ का जादू बरकरारः री-टेलीकास्ट को मिली हाईएस्ट रेटिंग, बनाया रिकॉर्ड

Sanjeevani
MDLM

डिस्टेंस बनाने के लिए लेनी पड़ी पुलिस की मदद

जनधन खाते में राशि भेजने की घोषणा के बाद शुक्रवार को बैंकों में जनधन खाताधारकों की भीड़ उमड़ पड़ी. यही नहीं, पैसे निकालने की होड़ में ये लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना भी भूल गये हैं. बैंक के स्टाफ ने बढ़ती भीड़ को देखते हुए जोड़ापोखर थाना से मदद ली.

भीड़ की सूचना पर जोड़ापोखर पुलिस बैंक पहु़ंची और लोगों को समझा बुझाकर डिस्टेंसिंग बनाने को कहा. पुलिस के आने के बाद लोग डिस्टेंस बनाकर कतार में खड़े हो गये.

इसे भी पढ़ें – MLA विनोद सिंह ने कहा- CM को उलझा रहे हैं अफसर, जिस नियम से हाथी उड़ाया, उसी नियम से गरीबों की करें मदद 

लोगों ने कहा – इस विकट परिस्थिति में पैसे की सख्त जरूरत

खाते से पैसा निकालने आये लोगों की मानें तो लॉकडाउन की वजह से काम बंद है. जिससे घर में कई प्रकार की समस्या उत्पन्न हो गयी है. घर में पैसे नहीं हैं. न्यूज के माध्यम से सूचना मिली कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनधन खाते में कुछ पैसे भेजे हैं, जिसे निकालने आयी हूं.

इस परस्थिति में पैसे इतने जरूरी हैं कि लोग डिस्टेंसिंग भूल गये.  उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के कारण लोगों का रोजी-रोजगार चौपट हो गया है. जिससे लोगों के सामने विकट स्थिति उत्पन्न हो गयी है. इसलिए जैसे ही यह सूचना मिली कि जनधन खाते में राशि आयी है, उसे निकालने के लिए लोगों की भीड़ लग गयी.

इसे भी पढ़ें – #PMModi की अपीलः 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए दीया जलाकर कोरोना के अंधेरे को दूर भगाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button