DhanbadJharkhand

#Dhanbad : गैस सिलेंडर की मूल्य वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने निकाला जुलूस, फूंका पीएम मोदी का पुतला

Dhanbad : केंद्र सरकार द्वारा गैर सब्सिडी वाले घरेलू गैस स्लेंडर में वृद्धि को लेकर शुक्रवार को धनबाद जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से रैली निकाली गयी.

रैली में शामिल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगाये गये और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया.

केंद्र सरकार द्वारा बिना सब्सिडी वाले घरेलू गैस सिलेंडर में 150 रुपये की वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी की और इस मूल्य वृद्धि को जल्द से जल्द वापस लेने की मांग की.

advt

जुलूस में शामिल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि अगर जल्द ही इस मूल्य वृद्धि को वापस नहीं लिया गया तो जोरदार आंदोलन किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : पुलवामा के शहीद विजय सोरेंग को रघुवर ने ठगा, CCL-BCCL फैमली मैटर की वजह से नहीं कर पा रही मदद

जल्द से जल्द मृल्य वृद्धि वापस ले केंद्र सरकार

इस दौरान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष ब्रजेन्द्र सिंह ने कहा कि मोदी सरकार अगर पहले ही गैस सिलेंडर में वृद्धि कर सकती थी लेकिन दिल्ली चुनाव के कारण इसे रोक कर रखा गया था.

adv

दिल्ली चुनाव के नतीजे आने के दूसरे दिन बाद ही मोदी सरकार की ओर से घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत में वृद्धि का दिया गया.

उन्होंने कहा कि इस सरकार का मकसद सिर्फ और सिर्फ पूंजीपतियों का लाभ पहुंचाना है. इस सरकार को गरीब जनता से कोई लेना-देना है. उन्होंने अविलंब इस मूल्य वृद्धि को वापस लेने की मांग की.

इसे भी पढ़ें : कृषि आशीर्वाद योजनाः 1300 करोड़ भी खर्च नहीं कर पायी BJP सरकार, अब कर रही योजना बंद करने का विरोध

जीएसटी के दायरे में लाया जाये कच्चा ईंधन

कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष ब्रजेंद्र सिंह ने कहा कि कच्चे ईंधन को जीएसटी के दायरे में लाया जाये. अगर कच्चा ईंधन जीएसटी के दायरे में आता है तो इसकी कीमत आधी से भी कम हो जायेगी.

उन्होंने कहा कि इससे सभी प्रकार के पेट्रोलियम पदार्थ सस्ते हो जायेंगे. लेकिन केंद्र सरकार ऐसा नहीं कर पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने का काम कर रही है.

इसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार अगर अविलंब इस मूल्य वृद्धि को वापस नहीं लेती है तो कांग्रेस जोरदार आंदोलन करेगी.

इसे भी पढ़ें : तो क्या सरकार और NIOS के बदलते नियमों के कारण अप्रशिक्षित रह गये 4500 पारा शिक्षक

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button