न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Dhanbad: अतिक्रमण हटाने पहुंचे रेलवे अधिकारियों को कांग्रेस प्रत्याशी पूर्णिमा सिंह के समर्थक ने दी धमकी, वीडियो वायरल

1,204

Dhanbad: सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है. वीडियो में धनबाद का एक दबंग परिवार और रेलवे के अधिकारियों के बीच बहस हो रही है. मामला पाथरडीह का है.

वीडियो में अतिक्रमण हटाने पहुंचे रेलवे अधिकारियों को एक शख्स खुलेआम धमकी देता नजर आ रहा है. शख्स खुलेआम कह रहा है- नहीं पहचानते हो. रघुकुल के गुड्डू को. जानता नहीं कौन है.

इसे भी पढ़ेंःलातेहारः परहैया टोला के लोग करेंगे वोट बहिष्कार, गांव में लगे ‘सड़क-पानी नहीं तो वोट नहीं’ के पोस्टर

कहता है रघुकुल-गुड्डू को नहीं जानते. छलनी-छलनी कर देंगे. बड़का ऑफिसर बना है. धमकी देनेवाला शख्स रघुकुल का समर्थक बताया जाता है.

hotlips top

कांग्रेस प्रत्याशी पूर्णिमा सिंह समर्थक है आरोपी

पूरे मामले को लेकर बताया जा रहा है कि रेलवे के अधिकारी अतिक्रमण हटाने के लिए पाथरडीह पहुंचे थे. जैसे ही अतिक्रमण हटाने का काम शुरू किया गया, कांग्रेस नेता अभिषेक सिंह के समर्थकों ने उन्हें तत्काल इसकी सूचना दी. चूंकि अभिषेक सिंह की भाभी पूर्णिमा सिंह कांग्रेस की प्रत्याशी हैं और झरिया विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रही हैं, तो अभिषेक सिंह अपने समर्थकों संग पाथरडीह पहुंच गये.

30 may to 1 june

स्थानीय लोग अतिक्रमण हटाने को लेकर रेलवे अधिकारी से दो महीने का समय मांग रहे थे. बात होती रही. इसी बीच अभिषेक के एक समर्थक उग्र होकर रेलवे अधिकारी से पूछ बैठता है कि गुड्डू सिंह को पहचानते हो. अधिकारी ने ना में जवाब दे दिया. फिर क्या था. वह समर्थक पूरी तरह उखड़ गया और रघुकुल, गुड्डू को नहीं पहचानते हो, छलनी कर देंगे. अन्य समर्थकों ने उग्र व्यक्ति को समझा बुझाकर हटाया.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में भाजपा का सीएम चेहरा रघुवर दास ही हैं भ्रष्टाचार के आरोपी

रेलवे के सैकड़ों आवास पर है दबंगों का कब्जा

दरअसल पाथरडीह रेलवे कॉलोनी के सैकड़ों आवास पर बाहरी लोगों का कब्जा है. रेल प्रशासन को सूचना मिली है कि दबंग-रंगदार किस्म के लोग लंबे समय से रेलवे के आवास पर कब्जा जमा उसे किराये पर लगाये हुए हैं. धनबाद रेल प्रशासन ने इसे गंभीरता से लेते हुए अवैध कब्जा धारियों को घर खाली करने का नोटिस थमाया था लेकिन रेलवे का आवास खाली नहीं हो रहा था.

मामले से जिला प्रशासन को भी कराया जायेगा अवगत

वहीं इस मामले में वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त हेमंत कुमार ने बताया कि स्थानीय थाना और जीआरपी को सूचित कर रेलवे अधिकारी (स्टेट ऑफिसर) RPF के साथ पाथरडीह में रेलवे आवास खाली कराने गये थे. वहां कुछ लोग राजनीतिक या समाजसेवी सरकारी कार्य में बाधा डाल रहे थे.

उन्होंने कहा कि स्टेट ऑफिसर द्वारा उन लोगों के विरुद्ध कार्रवाई किये जाने की तैयारी की जा रही है. उन्होंने बताया कि छलनी करने वाली बात की लिखित शिकायत आते ही कार्रवाई होगी और इन तमाम चीजों से जिला प्रशासन को भी अवगत कराया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः#FodderScam: लालू यादव को मिलेगी बेल या होगी जेल, जमानत याचिका पर आज HC में सुनवाई

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like