DhanbadJharkhandKhas-Khabar

धनबाद: मरम्मत को तरस रहा चेक डैम, गुहार के बाद भी नेता-अधिकारियों का रवैया सुस्त

विज्ञापन

Ranjit Kumar Singh

Dhanbad:  टुंडी प्रखंड क्षेत्र के गादी टुंडी में 1990 बना चेक डैम काफी जर्जर हो चुका है. गांंव के लोगों ने कई बार इस चेक डेम को मरम्मत करने के लिए नेताओ से लेकर जिला प्रशासन तक को आवेदन दिया, लेकिन आज तक इस चेक डैम की हालत जस की तस है.

ग्रामीणों का कहना है कि जर्जर चेक डैम के कारण किसानों को सिंचाई करने में काफी असुविधा होती है. गर्मी के दिनों में चेक डैम का पानी सूख जाता है, जिस कारण फसलों को पानी नहीं मिल पाता है.

advt

आसपास के लोग इस चेक डैम के पानी का इस्तेमाल घरेलू कामों के लिए करते हैं लेकिन गर्मी के दिनों में पानी सूख जाने की वजह से उन्हें घरेलू काम के लिए भी यहां से पानी मिल पाता है.

इसे भी पढ़ें- तो क्या रघुवर दास और राजबाला वर्मा ने 35 लाख लोगों को तीन साल तक भूखे रखने का पाप किया

मरम्मत के नाम पर की गयी खानापूर्ति

इस चेक डेम को लेकर गादी टुंडी के रहने वाले कमाल अंसारी ने कहा कि इसकी मरम्मत 1990 के बाद दो बार हुई लेकिन मरम्मत के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की गयी. इसके बाद गांंव के लोगों ने आपस मे चंदा कर इसकी मरम्मत की. लेकिन सीमित साधन से की गयी मरम्मत के कारण इसका समुचित लाभ यहां के किसानों को नहीं मिल पा रहा है.

कमाल अंसारी ने बताया कि इस चेक डेम की मरम्मत के लिए गांंव के लोगों ने जिला प्रसासन के अधिकारियों और नेताओं को आवेदन दिया था लेकिन किसी ने इस चेक डेम की मरम्मत करवाना मुनासिब नहीं समझा.

कमाल ने कहा कि रतनपुर, कोकराद, बिशनिपत्रा और ऐसे कई गांंव हैं जो इस चेक डैम के पानी से अपने खेतों की सिंचाई करते हैं. यही नहीं, घरेलू काम भी इसी चेक डैम के पानी से ही होता है.

इसे भी पढ़ें- #AIMIM नेता वारिस पठान पर एफआइआर दर्ज, भड़काऊ बयान के खिलाफ एक्शन

नयी सरकार और नये विधायक से है उम्मीद

कमाल ने कहा नयी सरकार बनी है. क्षेत्र में नये विधायक जीते हैं. इनसे चेक डेम की मरम्मत की काफी उम्मीद है. अगर चेक डैम की सफाई और इसकी मरम्मत हो जाएगी तो यहांं के किसानों को सिंचाई में काफी राहत मिलेगी.

उन्होंने कहा कि चेक डैम की मरम्मत हो जाने से आसपास के चार-पांच गांवों को इसका लाभ मिलेगा और वे खेतों की सिंचाई आसानी से कर पायेंगे. उन्होंने कहा कि चेक डैम की मरम्मत के साथ ही साथ यहां पर एक पुलिया के निर्माण की भी जरूरत है. पुलिया का निर्माण होने से आसपास के ग्रामीणों को आने जाने में काफी सुविधा होगी.

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close