DhanbadJharkhand

धनबाद- सीमावर्ती इलाके होंगे सील, चिकित्सक, नर्स, पारा मेडिकल स्टाफ से अभद्रता करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई : डीसी

Dhanbad : उपायुक्त अमित कुमार की अध्यक्षता में समाहरणालय के सभागार में जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक आयोजित की गयी. इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि धनबाद के सीमावर्ती जिलों में कोविड-19 का संक्रमण है. इसलिए जिला की सीमा पर और सख्ती बरतनी होगी. सीमावर्ती जिला से किसी को भी धनबाद में एंट्री की इजाजत नहीं मिलेगी. आवश्यक वस्तुओं को लेकर आने वाले वाहनों को जांच के पश्चात जिले में प्रवेश की अनुमति मिलेगी.

पड़ोसी राज्य में आसनसोल कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट है. इसलिए उपायुक्त ने इंटर स्टेट बॉर्डर के सभी चेक पोस्ट पर लगातार कड़ी निगरानी रखने का निर्देश दिया है. उन्होंने कहा कि एक संक्रमित के कारण बड़ी आबादी पर असर होता है. उपायुक्त ने कहा कि नये अध्यादेश के तहत चिकित्सक, नर्स, पारा मेडिकल कर्मी, सफाई कर्मी, पुलिसकर्मी के साथ अभद्रता करने वाले या उन्हें धमकी देने वाले तथा काम में बाधा पहुंचाने वालों के विरुद्ध अध्यादेश के प्रावधानों के अनुसार कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः #Palamu : लॉकडाउन का साइड इफेक्ट, बेटे की हुई मौत, अंतिम बार देख भी नहीं सकी बुजुर्ग मां 

Sanjeevani

क्वॉरेंटाइन सेंटर में मनोरंजन तथा काउंसलिंग का होगा प्रबंध

क्वॉरेंटाइन सेंटर में बुनियादी सुविधाओं के साथ संदिग्धों के मनोरंजन तथा उनकी काउंसलिंग करने का निर्देश दिया गया. उन्होंने कहा कि क्वॉरेंटाइन सेंटर में संदिग्धों के स्किल डेवलपमेंट की मैपिंग की जायेगी. उनके हुनर का उपयोग कर उन्हें आसपास में काम दिया जाएगा, जो एक बड़ी उपलब्धि साबित होगी. साथ ही बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को चिह्नित कर उसे माइग्रेंट सेंटर के रूप में इस्तेमाल करने का भी निर्देश दिया.

बाहर फंसे मजदूरों की सूची 30 अप्रैल तक उपलब्ध कराने का निर्देश

लॉकडाउन के कारण जिले के हजारों मजदूर अन्य राज्यों में फंस गये हैं. इसके लिए उपायुक्त ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को 30 अप्रैल 2020 तक वैसे मजदूरों की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया. उपायुक्त ने कहा कि सूची प्राप्त होने के बाद माननीय विधायक की अनुशंसा पर मजदूरों को सहायता प्रदान की जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना के सभी मामलों को हिंदपीढ़ी से जोड़ना ठीक नहीं, संदिग्धों की ज्यादा जांच से बढ़ रहे केस : रांची डीसी

सूचनातंत्र मजबूत करें, शराब दुकानों पर रखें पैनी नजर

वहीं इस बैठक में शामिल वरीय पुलिस अधीक्षक किशोर कौशल ने कहा कि धनबाद में कोरोना का नया मामला न आये इसलिए जिले की सीमा पर विशेष चौकसी बरतने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि मुख्य मार्ग को छोड़कर नदी, जंगल के रास्तों से घुसने वालों पर विशेष नजर रखने की आवश्यकता है. इसके लिए सूचना तंत्र को और मजबूत बनाना है.

इन क्षेत्रों में विशेष चौकसी रखने की है जरूरत 

निरसा, कलियासोल, टुंडी, पूर्वी टुंडी तोपचांची सहित अन्य क्षेत्रों में भी कड़ी चौकसी रखने की आवश्यकता है. साथ ही बोकारो से लगने वाली जिले की सीमा पर पेट्रोलिंग और पुलिस गश्त को बढ़ाया जायेगा. वरीय पुलिस अधीक्षक ने शराब दुकानों पर भी कड़ी निगरानी रखने का निर्देश दिया है.

उन्होंने कहा कि पुलिस को ऐसी सूचना मिली है कि लोग चोरी छुपे शराब दुकान से शराब की निकासी कर सप्लाई करते हैं. उन्होंने कहा कि सभी शराब दुकानों के स्टॉक की जांच होनी चाहिए. दुकानों में 22 मार्च 2020 के अनुसार शराब का स्टॉक होना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः देखें वीडियो– गढ़वा में मछली मारने गुरदी डैम में गए दो भाइयों की मिली लाश, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button