DhanbadJharkhand

#Dhanbad: भाजपा ने CAA  और NRC के पक्ष में बनायी मानव श्रृंखला,  शामिल हुए धनबाद के सांसद, मेयर सहित तीन विधायक, पर नहीं दिखी भीड़

Dhanbad : भारतीय जनता युवा मोर्चा द्वारा शनिवार को CAA और NRC के पक्ष में रणधीर वर्मा चौक पर हस्ताक्षर अभियान चलाया गया और मानव श्रृंखला बनायी गयी.

इस दौरान धनबाद सांसद पीएन सिंह,  धनबाद मेयर चन्द्रशेखर अग्रवाल,  धनबाद विधायक राज सिन्हा,  निरसा विधायक अपर्णा सेन गुप्ता,  सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो,  भाजपा नेत्री रागिनी सिंह आदि शामिल हुए लेकिन लोगों की भीड़ कार्यक्रम में नजर नहीं आयी.

इस दौरान उन्होंने लोगों को बताया कि CAA  और NRC  देश में रह रहे नागरिकों के खिलाफ नहीं है, बल्कि उनके लिए है जो पाकिस्तान,  बांग्लादेश और अफगानिस्तान से पीड़ित होकर भारत आये हैं, उन्हें नागरिकता देने के लिए है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें – #Hemant_Soren ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली में मुलाकात की, मिला सहयोग का आश्वासन

The Royal’s
Sanjeevani

यह लोगों को नागरिकता देनेवाला कानून है : पीएन सिंह

एनआरसी औऱ सीएए के समर्थन में भाजपा के मानव श्रंखला कार्यक्रम में उपस्थित विधायक औऱ अन्य नेता.

सांसद पीएन सिंह ने कहा कि भाजपा लोगों को विश्वास दिलाना चाहती है कि देश में रह रहे लोगों को इससे कोई मतलब नहीं है. विपक्ष इस पर भ्रम फैला रहा है जबकि ये लोकसभा और राज्यसभा से पास होकर कानून बना है, जिसका विपक्ष को भी पालन करना चाहिए.

धनबाद विधायक राज सिन्हा ने कहा कि कांग्रेस अल्पसंख्यक तुष्टिकरण के रूप में भ्रम फैला रही है और विरोध करवा रही है. उन्होंने कहा कि यह दूसरे देश से आये शरणार्थी को नागरिकता देने का कानून है. इस कानून का मकसद किसी की नागरिकता छीनना नहीं है.

वहीं अल्पसंख्यक समुदाय द्वारा बिना अनुमति के निकाले गये जुलूस पर प्रशासन द्वारा 3000 लोगों पर राजद्रोह के मुकदमे को हटाने के सीएम के फैसले पर भी उन्होंने निशाना साधा. कहा कि यह एकपक्षीय फैसला है.

इसे भी पढ़ें – विरोध के बीच पीएम मोदी पहुंचे कोलकाता, सड़क पर ‘GO Back Modi’ के लगे नारे

लोगों ने कहा - भाजपा के कार्यक्रम में नहीं था तिरंगा

भाजपा के कार्यक्रम में तिरंगा नहीं था. लोगों ने बताया कि CAA और NRC के विरोध में निकाले गये जुलूस में सभी लोगों के हाथ में तिरंगा था. इसके बावजूद प्रशासन की ओर से उन पर राजद्रोह का मुकदमा कर दिया गया. जबकि CAA  और NRC के समर्थन में भाजपा की ओर से निकाले गये जुलूस और मानव श्रृंखला में किसी के हाथ में तिरंगा नहीं था.

इसे भी पढ़ें – #Development की अवधारणा को कारपोरेट ने बदल दिया- डॉ रमेश शरण

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button