Crime NewsDhanbadJharkhand

धनबाद: BCCL की दहीबाड़ी परियोजना में MCC और JMM के बीच चले तीर और पत्थर

Dhanbad: निरसा विधानसभा क्षेत्र के पंचेत थाना अंतर्गत BCCL की दहीबाड़ी परियोजना में रंगदारी और वर्चस्व की लड़ाई को लेकर मार्क्सवादी समन्वय समिति (MCC) और झामुमो (JMM) समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुई. शनिवार को दहीबाड़ी परियोजना युद्ध का मैदान बन गया. लाठी-डंडे से लेकर तीर और पत्थर तक चलाए गए. इस लड़ाई में JMM समर्थक भारी पड़े. MCC के लोगों को भागना पड़ा. एक दर्जन लोग जख्मी हो गए हैं.

पंचेत पुलिस मामले को संभाल नही पा रही थी. बाद में कालूबथान ओपी, गल्फरबाड़ी ओपी और चिरकुंडा थाना की पुलिस व पुलिस निरीक्षक पहुंचे. इसके बाद स्थिति नियंत्रित हुई. इस घटना के परियोजना के आसपास तनाव है.

advt

इसे भी पढ़ें:चलती ट्रेन में सवार होने के चक्कर में महिला गिरी, सुरक्षाकर्मियों ने बचाई जान, देखें VIDEO

सीआइएसएफ और पंचेत थाना की पुलिस कैंप कर रही है. वहीं इस मामले में एमसीसी और झामुमो दोनों तरफ से पंचेत ओपी में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है.

दरअसल, MCC के द्वारा शनिवार को आउट सोर्सिंग पेंच बी के पास प्रदर्शन का कार्यक्रम आयोजित किया गया था. वहां पर JMM समर्थक ने प्रदर्शनकारियों को आगे आने से रोकने लगे. इसको लेकर दोनों और से धक्का मुक्की होने लगा. बाद में स्थिति यह हो गयी कि दोनों ओर से लाठी-डंडा चलने लगे.

कुछ समर्थकों ने कुल्हाड़ी एवं तीर का भी इस्तेमाल किया. बता दें कि परियोजना में पहले से JMM को वर्चस्व स्थापित है. जबकि MCC वर्चस्व स्थापित करना चाहती है. इसे लेकर तनाव है. तनाव के बाद पूरा क्षेत्र पुलिस एवं सीआइएसएफ की छावनी में बदल गया है.

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : बिहार हो जाएगा मालामाल, जानें किस जिले में मिला देश का सबसे बड़ा GOLD भंडार

घटना को लेकर पुलिस जिम्मेवार : अरुप चटर्जी

इधर घटना को लेकर पूर्व विधायक अरूप चटर्जी का कहना है कि इस घटना को लेकर पुलिस जिम्मेवार है. पहले भी घटना घट चुकी थी. JMM समर्थकों ने कुल्हाड़ी से वार किया. जिसके कारण कई कार्यकर्ता घायल हुए है.

वहींं इसको आउट सोर्सिंग प्रबंधन लोगों को लड़वा रही है. हमारे कार्यकर्ता शांति पूर्ण आंदोलन के लिये गये थे. पता रहता तो मासस के जैसा समर्थक पूरा निरसा में किसी का नही है.

इसे भी पढ़ें:कांची नदी पर धंसे पुल के कारणों की जांच रिपोर्ट अब तक नहीं सौंपी गयी सरकार को

अरूप चटर्जी जिम्मेवार : JMM नेता

वहीं झामुमो नेता बोदी हांसदा का कहना है घटना के लिये अरूप चटर्जी जिम्मेवार है. विस्थापित अपने हक के लड़ाई के लंबे समय से लड़ रहे हैं. अरूप चटर्जी बाहरी लोगों को यहां नियोजन राजनीतिक लाभ के लिये देना चाहता है.

इसे भी पढ़ें:घर के बाहर आरएफआईडी लगाने को कोई मांगे पैसे तो करें कंप्लेन

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: