DhanbadJharkhand

धनबाद : पानी कनेक्शन काटने गये सहायक अभियंता की फजीहत, बैरंग लौटे

Dhanbad: एक तरफ पानी और बिजली को लेकर धनबाद में उबाल है. राजनीतिक दलों से लेकर आम और खास आदमी तक पानी और बिजली की किल्लत को लेकर राज्य सरकार को कोस रहा है. सत्तारूढ़ दल भाजपा के कार्यकर्ताओं ने भी बिजली और पानी को लेकर सवाल उठाया है.  दूसरी तरफ बुधवार को श्रीराम वाटिका,  धैया का पानी कनेक्शन काटने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग धनबाद के सहायक अभियंता डीएन महतो पहुंच गये.  पानी काटने की बात सुनते ही श्री राम वाटिका की महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा.  आक्रोशित महिलाओं ने सहायक अभियंता डीएन महतो की फजीहत कर दी. फजीहत के बाद सहायक अभियंता महतो को बैरंग लौटना पड़ा.

.इसे भी पढ़ें  झरिया : 25 लाख की लागत वाली सड़क पैदल चलने लायक भी नहीं, BCCL की हाइवा ने किया जर्जर

 यह है पूरा मामला

जल संकट को लेकर कोरंगा पट्टी के लोगों ने मंगलवार को सिटी सेंटर-बरवाअड्डा फोरलेन जाम किया था. उनका कहना था कि जबसे श्रीराम वाटिका में पानी का कनेक्शन दिया गया है ,तबसे उन लोगों का फ्लो कम हो गया. इसके बाद बुधवार को पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सहायक अभियंता श्रीराम वाटिका का कनेक्शन काटने गये थे.  इसके लिए मिट्टी की खुदाई की जा रही थी. जैसे ही यह बात श्रीराम वाटिका में रहने वाले लोगों को पता चली,  वे लोग  भड़क गये. सबसे ज्यादा महिलाएं उग्र थीं.  उन्होंने सहायक अभियंता को घेर लिया.उनका कहना था कि पानी का कनेक्शन वैध है.  वे लोग पानी के बिल का भुगतान करते हैं.  कनेक्शन कैसे काटा जा सकता है? अगर कोरंगा पट्टी में पानी का फ्लो कम है तो उसे बढ़ाने के लिए पेयजल विभाग को तकनीकी व्यवस्था करनी चाहिए.

इस बीच झारखंड प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी बीपीएल दास ने सहायक अभियंता को फोन पर पानी कनेक्शन नहीं काटने की नसीहत दी.  उनका कहना था कि कनेक्शन काटना कानूनन सही नहीं होगा. अगर कनेक्शन काटने के बाद पानी के अभाव में किसी की मौत होती है तो उसके लिए जिम्मेदार कौन होगा? इसके बाद सहायक अभियंता विभाग के कर्मचारियों के साथ लौट गये.

इसे भी पढ़ें –बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार का वार्ड 14/A बना वीआइपी,पैसे के बल पर मिलती है सारी सुविधाएं

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: