Crime NewsDhanbadJharkhand

धनबाद: असामाजिक तत्वों ने की मंदिर में तोड़फोड़, दो आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़ा, तनाव

Dhanbad: धनबाद के गोविंदपुर में आसामजिक तत्वों ने शिव मंदिर में तोड़फोड़ की. कई मूर्तियों को नुकसान पहुंचाया. मूर्तियों को खंडित किया. ग्रामीणों ने 2 आरोपी युवकों को पकड़ लिया. जिसमें से एक को थाना ले जाया गया. जबकि दूसरे आरोपी को ग्रामीणों ने पकड़ कर रखा है. घटना गोविंदपुर थाना क्षेत्र के जमडीहा पंचायत के कुबरीटांड की है. मौके पर ग्रामीण एसपी रेशमा रमेशन और डीएसपी अमर कुमार पांडेय पहुंचे हैं. भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है. घटना को लेकर क्षेत्र में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है.

इसे भी पढ़ें: धनबाद,झरिया और कतरास नगर में नई ट्रैफिक व्यवस्था लागू,2 से 5 अक्तूबर तक नए रूट पर चलेंगे सभी वाहन

मिली जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार की सुबह गोबिंदपुर थाना क्षेत्र के जमडीहा पंचायत के कुबरीटांड में कुछ शरारती युवकों ने शिव मंदिर परिसर में तोड़फोड़ की. इस दौरान हनुमान जी की मूर्ति और शिवलिंग को खंडित कर दिया है. घटना के बाद ग्रामीणों ने दो युवकों को मौके पर ही दबोच लिया. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर गोविंदपुर थाना पुलिस दलबल के साथ पहुंची और ग्रामीणों की ओर से पकड़े गए दो युवकों में से एक युवक को अपनी कस्टडी में ले लिया, जबकि दूसरे को ग्रामीणों ने अभी भी अपने कब्जे में रखा है. फिलहाल, पुलिस अधिकारी घटनास्थल का जायजा लेने के साथ मामले की छानबीन में जुटे हुए हैं. साथ ही सामाजिक सौहार्द न बिगड़े इसका प्रयास किया जा रहा है.

पुलिस की सूझबूझ से माहौल शांत

क्षेत्र के डीएसपी अमर कुमार पांडे ने इस संबंध में कहा- ‘स्थिति अब नियंत्रण में है. इलाके में शांति बनी रहे इसके लिए क्षेत्र में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है, जो क्षेत्र में गस्ती दल के रूप में भी काम करेगी. साथ ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जिनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें आज जेल भेज दिया जाएगा. वहीं जिला प्रशासन खुद अपनी देखरेख में उक्त मंदिर में पुनः बजरंगबली जी की मूर्ति पूरे विधि विधान के साथ स्थापित कराएगी.

मालूम हो कि बजरंगबली की मूर्ति तोड़े जाने के बाद ग्रामीणों ने नावाटांड़ के रहने वाले आरोपित इम्तियाज अंसारी, पिता मुस्लिम अंसारी को बांधकर पुलिस के हवाले कर दिया. ग्रामीणों का आरोप है कि इसी युवक ने छह माह पूर्व टुंडी थाना क्षेत्र के कोटालडीह गांव में भी मंदिर एवं भगवान की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया था. 15 जनवरी 2016 को नावाटांड़ में भी उसने भगवान की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया था. दोनों बार उसे चेतावनी देकर छोड़ दिया गया था, लेकिन इस बार ग्रामीण उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. मामले की जानकारी मिलने पर विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, भाजपा आदि दलों के नेता भी कार्रवाई की मांग पुलिस से की. वहीं पुलिस ने आरोपित को कठोरतम सजा दिलाए जाने का भरोसा लोगों को दिया.

Related Articles

Back to top button