DhanbadJharkhand

धनबाद: सीओ व मासस नेता के बीच हाथापाई के बाद दर्ज हुआ मामला

Dhanbad:  निरसा अंचल कार्यालय में सीओ के साथ मासस नेता सुकेश मुखर्जी की हाथापाई के बाद सीओ ने थाने में कराया मामला दर्ज कराया है. सीओ एम एन मंसूरी ने ही हाथापाई की सूचना देकर पुलिस को बुलाया था. इस मामले में  निरसा थानेदार सुभाष सिंह दलबल के साथ अंचल कार्यालय पहुंचे. पूछताछ के बाद सीओ ने निरसा थाना में सुकेश मुखर्जी के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. इसके साथ ही शिकायत की प्रतिलिपि धनबाद आयुक्त उमाशंकर सिंह को भेज दी है. उपायुक्त ने इस पर संज्ञान लेते हुए एसएसपी को जल्द आरोपी को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है. निरसा अंचल कार्यालय के अधिकारियों व कर्मचारियों ने घटना पर अपना विरोध जताया है.

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार निरसा सीओ को शिकायत मिली थी कि अश्विनी कुमार मंडल और धनंजय मंडल पशु चिकित्सालय व उप स्वास्थ्य केंद्र की चारदीवारी तोड़कर रास्ता बना रहे हैं. शिकायत पर सीओ ने दोनों पक्षों को नोटिस भेजकर अंचल कार्यालय बुलाया था. शिकायतकर्ता के साथ मासस नेता सुकेश मुखर्जी दिल मोहम्मद गोपाल दास व अन्य पंचायत प्रतिनिधि अंचल कार्यालय पहुंचे. इस दौरान दोनों पक्षों के बीच बातचीत के दौरान हंगामा होने लगा इस पर सीओ ने दोनों पक्ष से एक एक व्यक्ति को कार्यालय में रहकर पक्ष रखने को कहा.

सुकेश मुखर्जी सहित अन्य पंचायत प्रतिनिधियों को कार्यालय से बाहर जाने को कहा इसी बात को लेकर सुकेश मुखर्जी के साथ सीओ की नोकझोंक होने लगी. कुछ लोगों ने गाली-गलौज भी शुरू कर दी. हाथापाई होने पर दोनों पक्ष के लोग कार्यालय से बाहर निकल गये.

सुकेश मुखर्जी ने आरोपों से किया इनकार

सीओ ने घटना के बाबत निरसा थाना में शिकायत की है. उन्होंने कहा है कि कलुबथान मौजा की 67 डिसमिल जमीन पर अतिक्रमण किया गया है. जिसे लेकर अंचल कार्यालय में शिकायत की सुनवाई थी. सुनवाई के दौरान बिना अनुमति के सुकेश मुखर्जी प्रवेश कर गये और उनके साथ दुर्व्यवहार करते हुए गाली गलौज की जान से मारने की धमकी दी. सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न किया गया. पुलिस के पहुंचने के पहले शुकेश मुखर्जी वहां से निकल गये. इधर, सुकेश मुखर्जी ने आरोप से इनकार किया है।

इसे भी पढ़ें- लालू को आज भेजा जा सकता है दिल्‍ली, तेजस्वी बोले- डॉक्टर लेंगे अंतिम फैसला

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: