Dhanbad

धनबादः राष्ट्रीय लोक अदालत में 4 हजार विवादों का होगा निपटारा

Dhanbad: लोक अदालत स्वच्छ, सुलभ एवं स्वस्थ न्याय का सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है. यहां न कोई हारता है और न ही कोई जीतता है. लोगों को सुलभ न्याय दिलाने के लिए हमें हर संभव प्रयास करना है और इसलिए इस महायज्ञ में सभी को अपनी आहुति देनी चाहिए.

इसे भी पढ़ेंःवित्त मंत्रीः टैक्स पेयर को राहत, छोटे डिफॉल्ट में नहीं चलेगा आपराधिक मुकदमा

ये सारी बातें शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत के उद्घाटन समारोह में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के चेयरमैन सह प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश बसंत कुमार गोस्वामी ने कही. उन्होंने कहा कि जितने ज्यादा विवादों का निष्पादन होगा, समाज में उतनी ज्यादा समरसता आयेगी. उन्होंने बताया कि इस बार राष्ट्रीय लोक अदालत में चार हजार से अधिक मुकदमों के निष्पादन का लक्ष्य रखा गया है.

पिछली बार 4 करोड़ 14 लाख रुपये की हुई थी रिकवरी

जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने कहा कि 13 जुलाई को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में 4 हजार 229 विवादों का निपटारा किया गया था. वहीं 4 करोड़ 14 लाख 99 हजार 329 रुपये की रिकवरी हुई थी.

जबकि 9 मार्च को आयोजित नेशनल लोक अदालत में 3 करोड़ 45 लाख रुपये की रिकवरी हुई थी,  और 3802 मुकदमों का निष्पादन किया गया था. बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राधेश्याम गोस्वामी ने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोग अपने विवादों का निपटारा नेशनल लोक अदालत में करायें.

धनबाद बार एसोसिएशन इसमें पूरा सहयोग करेगा. समारोह को जिला एवं सत्र न्यायाधीश, कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश सत्य प्रकाश, अवर न्यायाधीश सह डालसा सचिव अरविंद कच्छप ने भी संबोधित किया. नेशनल लोक अदालत में विवादों के निपटारा के लिए 14  बेंचों का गठन किया गया है.

Related Articles

Back to top button