Crime NewsRanchi

अनिल शर्मा के लिए काम करने वाला धनंजय प्रधान झारखंड, बंगाल और ओडिशा में वसूल रहा रंगदारी

Ranchi: कभी गैंगस्टर अनिल शर्मा के लिए वसूली करने वाला कुख्यात अपराधी धनंजय प्रधान इन दिनों तीन राज्यों में वसूली कर रहा है.

Jharkhand Rai

खबर है कि झारखंड के रांची, बोकारो, रामगढ़, धनबाद और बंगाल व ओडिशा के बड़े व्यवसायियों, कोयला कारोबारियों एवं रेललाइन, सड़क और पुल निर्माण करने वाली कंपनियों से रंगदारी वसूल रहा है.

बताया जा रहा है कि वह रांची से भी हर महीने मोटी रंगदारी उठा रहा है. सिम बदल-बदल कर रंगदारी मांग रहे, प्रधान का लोकेशन कभी झारखंड, कभी ओडिशा तो कभी बंगाल आता है. बताया जा रहा है कि धनंजय प्रधान ने नेपाल में शरण ले रखी है.

इसे भी पढ़ेंः क्यों है सबकी नजर, पाकुड़ विधानसभा सीट पर…

Samford

कभी अनिल शर्मा के लिए करता था वसूली

मिली जानकारी के अनुसार, माओवादी और संगीन अपराधी के नाम पर कोल, रेल और स्टील सेक्टर से गुंडा टैक्स वसूलने वाला धनंजय प्रधान जेल में बंद गैंगस्टर अनिल शर्मा के लिए काम करता था.

धनंजय को झारखंड में डॉन का मुखौटा माना जाता था, जो दशकों से आउटसोर्सिंग कंपनी और ठेकेदारों के लिए सिरदर्द बना हुआ है.

कुख्यात नक्सलियों के नाम पर भी वसूलता है रंगदारी

इस वर्ष 14 जनवरी को धनंजय प्रधान के लिए काम करने वाले संतोष डे को बोकारो पुलिस ने गिरफ्तार किया था. पुलिस पूछताछ के दौरान उसने पुलिस को बताया था कि कुख्यात धनंजय प्रधान का घर रांची के पंडरा इलाके में है.

जब वह रांची अपराध जगत में सक्रिय था, तो उसके गिरोह में कई लोग शामिल हो गये थे.गिरोह में धुर्वा और रातू रोड इलाके के कई छोटे-बड़े अपराधी शामिल थे.

रांची से ठिकाना बदलने के बाद धनंजय प्रधान के कई गुर्गों ने उससे अपना नाता तोड़ दिया है.अब उसने रंगदारी वसूलने में कुछ खास लोगों को ही लगा रखा है.

इसे भी पढ़ेंः#Honey_Trap :  मोबाइल और लैपटॉप से मिली चीप को खंगालने के लिए अफसरों की टीम कर रही है ओवरटाइम   

कभी वह कुख्यात नक्सली के नाम पर रंगदारी वसूलता है, तो कभी खुद के नाम से. प्रधान रांची, हजारीबाग और बोकारो में जेल काट चुका है. रांची सेंट्रल जेल में बंद रहने के दौरान उसने जेल के अंदर से ही कई वारदात को अंजाम दिया था.

रामगढ़ पुलिस के निशाने पर धनंजय प्रधान

फोन पर धमकी देकर कोयला व्यवसायी, ठेकेदार और ट्रांसपोर्टर्स से गुंडा टैक्स मांगने वाला कुख्यात अपराधी धनंजय प्रधान अब रामगढ़ पुलिस के निशाने पर है.

गौरतलब है कि गुरुवार की रात पुलिस ने भुरकुंडा और भदानीनगर इलाके में छापामारी कर प्रधान के छ: गुर्गों को उठा लिया. इसमें भुरकुंडा रिवर साईड दुन्दुवा निवासी मनोज राम, भदानीनगर देवरिया निवासी राजू गोप, चिकोर पंचायत के उप मुखिया कृष्णा कुशवाहा, लादी निवासी आदित्य राम, चिकोर निवासी राजेश महतो और भुरकुंडा निवासी राहुल सरदार शामिल है.

हालांकि पुलिस ने राहुल को पूछताछ के बाद छोड़ दिया है. लेकिन पांच से पूछताछ की जा रही है. इनके फोन के साथ-साथ कॉल डिटेल को भी खंगाला जा रहा है. इसमें पुलिस को कई अहम सुराग भी मिले हैं.

हालांकि पुलिस की तरफ से इसकी कोई पुष्टि नहीं की गई है. कभी श्रीवास्तव गिरोह के लिए काम करने वाला अजय राम अब कुख्यात धनंजय प्रधान के लिए काम करता है.

उसे रांची से गिरफ्तार किया गया. अजय राम के गिरफ्तारी के बाद रामगढ़ जिला पुलिस रेस हो गई. अजय से गिरोह के बारे जानकारी उगलवाने के बाद ही पुलिस ने भुरकुंडा और भदानीनगर क्षेत्र में छापामारी कर छह लोगों को हिरासत में लिया.

इसे भी पढ़ेंःRSS की आपत्ति, भारत विरोध व जेहाद का नया रूप है वेब सीरीज #TheFamilyMan

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: