JamshedpurJharkhand

मालगाड़ी की चपेट में आने से धालभूमगढ़ रेलवे स्टेशन पर महिला हुई घायल, ग्रामीणों ने जमकर काटा बवाल

Dhalbhumgarh : रेलवे स्टेशन के एक नंबर प्लेटफार्म पार करने के समय मालगाड़ी के धक्के से देराग गांव के काशीडीह टोला निवासी मानी हेंब्रम 45 गंभीर रूप से घायल हो गई. सूचना मिलते ही पटनायकसोल, तिरूल्डीह तथा धालभूमगढ़ के ग्रामीण एवं यात्रियों ने विरोध जताया ड्यूटी पर तैनात एएसएम रामदयाल यादव को ग्रामीणों के विरोध का सामना करना पड़ा.

जानकारी के अनुसार मानी हेम्ब्रम डाउन लोकल से प्लेटफॉर्म पर उतरने के बाद एक नंबर प्लेटफार्म में खड़ी मालगाड़ी के नीचे से पार हो रही थी इसी क्रम में घटना हुई. ग्रामीणों का आरोप है कि ड्यूटी पर तैनात रेलवे कर्मी बिना अनाउंसमेंट के मालगाड़ी को सिग्नल दे दिया इसके कारण घटना घटी. एक नंबर प्लेटफार्म पार करने के लिए फुट ओवर ब्रिज नहीं है इसके कारण आए दिन दुर्घटना होती रहती है. फुट ओवर ब्रिज की मांग को लेकर ग्रामीणों ने डीआरएम सांसद तथा विधायक को कई बार मांग पत्र भी सौंपा है.

बिना सूचना के ही माल गाड़ी छोड़ दिया जाता है कई बार ऐसी घटना घट चुकी है. विरोध के बाद ग्रामीणों ने 108 एंबुलेंस से घायल महिला को पीएससी भेजने का प्रयास किया पर 108 एंबुलेंस आने में देरी हो रही थी इसे देखते हुए ग्रामीणों ने दूसरी वाहन की व्यवस्था कर घायल को अस्पताल भेजा. महिला के हाथ व सर पर गंभीर चोट लगी है. विरोध के संबंध में एएसएम रामदयाल यादव ने बताया कि एक नंबर पर मालगाड़ी खड़ी थी टर्निंग प्वाइंट के कारण जगह नहीं पहुंच पाई तो गार्ड ने फोन कर चालक को गाड़ी बढ़ाने को कहा था. कहा ट्रेन छोड़ते समय अनाउंसमेंट किया गया था चूंकि थर्ड लाइन का काम चल रहा है इसके कारण शायद महिला को अनाउंसमेंट सुनाई नहीं दी होगी.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें – कांड्रा: जेवियर स्कूल के दसवें स्थापना दिवस पर फादर ने स्कूल की अब तक की उपलब्धियां साझा की

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

Related Articles

Back to top button