JharkhandRanchi

#Jharkhand में बढ़ती मानव तस्करी, अफीम तस्करी, कोयला चोरी को लेकर डीजीपी ने की समीक्षा बैठक

Ranchi: झारखंड में बढ़ रहे मानव तस्करी, अफीम तस्करी, कोयला चोरी को लेकर सोमवार को पुलिस मुख्यालय में डीजीपी केएन चौबे की अध्यक्षता में राज्य के सभी जिले के एसपी के साथ वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से समीक्षा बैठक की गयी.

बैठक में डीजीपी ने खनन क्षेत्रों में विधि-व्यवस्था को मजबूत करने व रंगदारी और कोयला की चोरी रोकने को लेकर सभी जिले के एसपी को दिशा निर्देश दिये. बैठक में एडीजी सीआइडी, एडीजी स्पेशल ब्रांच, एडीजी अभियान और आइजी अभियान मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : आरोप : एस्सेल इंफ्रा के कर्मचारियों को #RMC में मर्ज कराने के लिए अधिकारियों ने ली रिश्वत

Catalyst IAS
SIP abacus

कोयला चोरी और रंगदारी रोकने के लिए सख्त निर्देश

MDLM
Sanjeevani

डीजीपी केएन चौबे की अध्यक्षता में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी जिले के एसपी के साथ हुई समीक्षा बैठक में राज्य में कोयला चोरी व कोयला खनन क्षेत्रों में रंगदारी रोकने के मकसद से विधि व्यवस्था में सुधार करने के लिए कोयला क्षेत्र के सभी एसपी को बड़े कदम उठाने का आदेश डीजीपी ने दिया.

मिली जानकारी के अनुसार हाल के दिनों में कोयला खनन क्षेत्रों में भयादोहन कर रंगदारी लेवी मांगने की वारदातें बढ़ी हैं.

डीजीपी ने जिलों के एसपी से सख्त लहजे में कहा है कि कहीं भी ऐसे तत्वों को बढ़ावा नहीं मिले जो कोयला खनन क्षेत्रों में डराने, धमकाने एवं भयादोहन का कार्य करते हैं. इन क्षेत्रों में सक्रिय अपराधिक और नक्सली संगठन पर कारवाई करने का निर्देश दिया गया.

इसे भी पढ़ें : #RanchiUniversity: 12 लाख में जिम बनवाया, पर नहीं खोज पा रहे इंस्ट्रक्टर, दो सालों से पड़ा है बेकार

मानव तस्करी रोकने को लेकर चर्चा

समीक्षा बैठक में डीजीपी ने पुलिस अधीक्षकों से राज्य से होने वाली मानव तस्करी कैसे रोकी जायेऔर इसमें शक्ति वाहिनी तथा झारखंड पुलिस मिलकर क्या भूमिका निभा सकती है, इस पर चर्चा की.

मिली जानकारी के अनुसार डीजीपी कहा है कि झारखंड मानव तस्करी का स्रोत बन गया है. पुलिस ने इसे गंभीरता से लिया है. मानव तस्करी रोकने के लिए पुलिस को संवेदनशील होना होगा.

अफीम तस्करों पर होगी कार्रवाई

राज्य के कई जिलों में अफीम की खेती शुरू हो गयी है. राज्य में बढ़ती अफीम की तस्करी को देखते हुए डीजीपी ने सभी जिले के एसपी को निर्देश देते हुए कहा गया कि जिन जिलों में अफीम की खेती हो रही है उसे तत्काल नष्ट किया जाये और खेती करने वाले पर भी कार्रवाई की जाये.

इसके अलावा अफीम की खरीद बिक्री करने वालों को भी पुलिस गिरफ्तार कर उस पर सख्त कार्रवाई करे.

इसे भी पढ़ें : बिजली संकट : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को क्यों कहना पड़ा- असुविधा के लिए क्षमा मांगता हूं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button