Ranchi

चाईबासा में शहीद हुए जवान और SPO को DGP ने दी श्रद्धांजलि, कहा- नक्सलियों के खिलाफ अभियान में दिया सर्वोच्च बलिदान 

विज्ञापन

Ranchi: चाईबासा में शहीद हुए जवान और एसपीओ को डीजीपी एमवी राव ने श्रद्धांजलि दी. डीजीपी ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा हम झारखंड पुलिस ने अपने शहीद हुए नायकों कांस्टेबल लखींद्र मुंडा और एसपीओ सुंदरस्वरुप महतो को श्रद्धांजलि देते हैं. उन्होंने कल पश्चिमी सिंहभूम जिले में नक्सलियों के खिलाफ एक ऑपरेशन में सर्वोच्च बलिदान दिया. हम अपनी प्रार्थनाओं में एकजुट हैं और अपने शहीद के परिवारों के साथ हैं.

 

नक्सली कमांडर लोडरो मुंडा ने दस्ते के साथ किया था हमला 

बता दें कि पश्चिम सिंहभूम के कराईकेला में सर्च ऑपरेशन पर निकले जवानों पर नक्सली कमांडर सुभाष उर्फ लोडरो मुंडा ने दस्ते के साथ हमला कर दिया. नक्सलियों की ओर से अचानक की गई फायरिंग में पोड़ाहाट एसडीपीओ नाथू सिंह मीणा के बॉडीगार्ड लखींद्र मुंडा व कराईकेला थाना के अस्थायी चौकीदार सह एसपीओ सुंदर स्वरूप महतो शहीद हो गए. वहीं, ऑपरेशन को लीड कर रहे एएसपी अभियान प्रणव आनंद व एसडीपीओ बाल-बाल बच गए. शहीद लखींद्र टोकलो थाना क्षेत्र के तोयबा जबकि सुंदर स्वरूप कराईकेला थाना क्षेत्र के ओटार के रहनेवाले थे.

 सर्च ऑपरेशन पर थे जवान

उल्लेखनीय है कि नक्सलियों के होने की सूचना पर एएसपी अभियान और चक्रधरपुर एसडीपीओ की अगुवाई में जवान जोनुवा पहुंचे थे. गांव के पास जवान बाइक खड़ी कर आगे बढ़ ही रहे थे कि गांव के घरों की आड़ लेकर नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी और डीएसपी के अंगरक्षक लखींद्र मुंडा और एसपीओ सुंदर स्वरूप महतो को गोली लग गयी. यह देख जवानों ने भी मोर्चा संभाला और जवाबी कार्रवाई शुरू कर दी. नक्सली गांव की ओर से फायरिंग कर रहे थे इसलिए पुलिस को कार्रवाई में परेशानी हो रही थी, जिसका फायदा उठा नक्सली जंगल में भाग खड़े हुए.

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close