न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रमाण पत्र निर्गत नहीं होने से डीजीएमएस कार्यालय में छात्रों ने किया प्रदर्शन

सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) की लापरवाही ने देश के माइनिंग सेक्टर के लगभग 2 सौ छात्रों के भविष्य पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है.

165

Dhanbad : सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) की लापरवाही ने देश के माइनिंग सेक्टर के लगभग 2 सौ छात्रों के भविष्य पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है. दरअसल डीजीएमएस के द्वारा छात्रों को जो सर्टिफिकेट 3 महीनो के अंदर निर्गत कर देने थे, उसे छह-छह महीनों तक लटकाये रखा गया, इस कारण छात्रों का भविष्य संकट में पड़ गया है. बार बार डीजीएमएस कार्यालय के चक्कर लगाने के बाद भी सर्टिफिकेट नहीं मिल रहे हैं. इसके विरोध में मंगलवार को छात्रों ने डीजीएमएस के समक्ष विरोधप्रदर्शन किया.

इसे भी पढ़ें – एक्शन में सीपी सिंह ! अपनी ही सरकार पर गरजे, कहा- पुलिस सहायता केंद्र का नाम बदलकर पुलिस…

 दूर दराज इलाकों से आये छात्रों ने डिजीएमएस कार्यालय में जोरदार प्रदर्शन 

hosp3

विरोधप्रदर्शन करने हाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश आदि अलग-अलग राज्यों से छात्र आये थे. छात्रों ने बताया कि कोल इंडिया की अलग-अलग इकाइयों में ओवरमेन की वैकेंसी निकली हुई है. इसके लिए उन्होंने दिन-रात मेहनत कर तैयारी पूरी कर ली है . लेकिन इस वैकेंसी की परीक्षा में शामिल होने के लिए जिस प्रमाणपत्र की आवश्यकता है, वह इस कार्यालय को निर्गत करने हैं,  लेकिन महीनों बीत जाने के बाद भी अब तक उन्हें  प्रमाणपत्र नहीं मिल सके हैं.

छात्रों के अनुसार प्रमाणपत्र निर्गत करने के लिए अधिकतम तीन महीने की समय सीमा तय की गयी है, लेकिन छह महीने बीत जाने के बाद भी प्रमाणपत्र पत्र नहीं मिल पाये है.  छात्रों ने बताया कि इसी महीने की 15 और 27 तारीख को परीक्षा होनी है. लेकिन अब उन्हें यह भय सताने लगा है कि प्रमाणपत्रों के नहीं मिलने से उनका भविष्य कहीं खतरे में न पड़ जाये. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: