न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिव्यांगों को नहीं मिल रहा आयुष्मान भारत योजना का लाभ, केंद्रीय राज्यमंत्री से लगायी गुहार

23

Ranchi: राष्ट्रीय विकलांग मंच ने केंद्र सरकार से दिव्यांग जनों को आयुष्मान भारत योजना में शामिल करने का आग्रह किया है. मंच का एक प्रतिनिधिमंडल नयी दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे से मिल कर दिव्यांग जनों को बेहतर चिकित्सकीय सुविधाएं देने की मांग की.

मंच के अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ बीपीएल परिवारों को मिल रहा है. झारखंड में केंद्र की इस योजना में दिव्यांग जनों को भी शामिल किये जाने की बातें उन्होंने कहीं. केंद्रीय मंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया कि जल्द ही वे दिव्यांग जनों को आयुष्मान भारत योजना में शामिल किये जाने के मुद्दे पर अधिकारियों से विमर्श करेंगे. केंद्र के स्तर पर जल्द ही नीतिगत फैसला भी इस पर लिये जाने की बातें स्वास्थ्य राज्य मंत्री ने कही.

रक्त से जुड़ी बीमारियां योजना में शामिल हों

उन्होंने कहा कि दिव्यांग जनों का मसला संवेदनशील होता है. इस पर गंभीरता से विचार किया जायेगा. मंच की ओर से कहा गया कि आर्टिफिशियल लिंब कैलीपर्स का रिप्लेसमेंट और रिपेयरिंग में दिव्यांग जनों को पर्याप्त सहायता नहीं मिलती है. रक्त से संबंधित गंभीर बीमारियां जैसे थैलीसीमिया, सिकल सेल हीमोफीलिया का समुचित इलाज का खर्च भी दिव्यांग जनों को वहन करने में परेशानी होती है. इन बीमारियों को भी आयुष्मान भारत से जोड़ने की आवश्यकता है.

मंच की ओर से कहा गया कि दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 के अंतर्गत 21 प्रकार के विकलांगता की व्याख्या की गयी है. इन्हें बेहतर चिकित्सा योजना से जोड़ने से दिव्यांग जनों को सशक्त किया जा सकता है. प्रतिनिधिमंडल में मंच के सचिव कुमारी वैष्णवी एवं सक्रिय सदस्य सूप कुमार व अन्य शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: