ChatraJharkhand

भद्रकाली मंदिर में नवरात्र की संधि बलि के अनुष्ठान में उमड़ा भक्तों का सैलाब 

Chatra :  इटखोरी  के ऐतिहासिक मां भद्रकाली मंदिर में शनिवार को नवरात्र की संधि बलि का अनुष्ठान पूरे विधि विधान पूर्वक किया गया. इस पावन अवसर पर माता के दरबार में मंदिर प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ श्रद्धालु भक्तों ने भी फलों की बलि अर्पित की.

Jharkhand Rai

नवरात्र की संधि बलि के अनुष्ठान के वक्त माता रानी का दरबार मां भद्रकाली के जयकारे से गुंजायमान होता रहा. परंपरा के अनुसार नवरात्र की संधि बलि का अनुष्ठान मां भद्रकाली मंदिर के साधना चबूतरा पर हुआ.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीह : सरिया की जूता-चप्पल दुकान में लगी आग, पांच लाख का स्टॉक जलकर राख

संधि बलि से पूर्व मां भद्रकाली की प्रतिमा का भव्य श्रृंगार किया गया. तत्पश्चात साधना चबूतरा पर मंदिर के पुजारियों के मंत्रोच्चारण के बीच संधि बलि का अलौकिक अनुष्ठान प्रारंभ हुआ. करीब डेढ़ घंटे तक चले संधि बलि के इस अनुष्ठान में मंदिर प्रबंधन समिति की ओर से प्रखंड विकास पदाधिकारी विजय कुमार, अंचल अधिकारी बैद्यनाथ कामती एवं थाना प्रभारी सचिन कुमार दास के साथ सैकड़ों श्रद्धालु भक्तों ने शिरकत की.

Samford

इसे भी पढ़ें – गिरिडीहः नेशनल हाईवे में दो ट्रकों के सीधी टक्कर में एक चालक की मौत, घटनास्थल पर लगा लंबा जाम

मंत्रोच्चारण व शंख ध्वनि के बीच नियत समय पर 11:27 बजे के पश्चात सर्वप्रथम माता को कुष्मांड की बलि अर्पित की गई. इसके बाद भक्तों ने फलों की भी बलि चढ़ाई. संधि बलि के पश्चात घी के दिए व कपूर से माता की महाआरती उतारी गई. संधि बलि का अलौकिक अनुष्ठान मां दुर्गा के पूजा पंडालों में भी आयोजित किया गया. कई श्रद्धालु भक्तों ने अपने घरों में ही संधि बलि का अनुष्ठान किया.

इसे भी पढ़ें – मोदी सरकार की इस ‘हरकत’ के खिलाफ हेमंत सरकार के साथ खड़ा हुआ चैंबर, केंद्रीय मंत्री से कहा- एक बार सोच लें

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: