न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

डीसी के आदेश के बावजूद शहर के अधिकतर पंडालों में नहीं लगा है फायर फाइटिंग सिस्टम

132

Ranchi : केंद्रीय शांति समिति और पूजा समितियों की शनिवार को हुई बैठक में डीसी राय महिमापत रे ने सारे पूजा आयोजकों को स्पष्ट तौर पर कहा था कि पूजा पंडालों में फायर फाइटिंग सिस्टम लगायें. उपायुक्त के निर्देश के बावजूद शहर के कुछ पंडालों को छोड़कर अधिकतर पंडालों में फायर फाइटिंग सिस्टम नहीं लगाया गया है. उपायुक्त के निर्देश के बाद दो मजिस्ट्रेट सागर कुमार और रविशंकर के साथ अग्निशमन पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार द्वारा शनिवार की रात में राजधानी रांची के सभी पूजा पंडालों का निरीक्षण किया गया था. इसमें पाया गया कि कई पंडालों में सीसीटीवी कैमरे लगा दिये गये हैं और कुछ पंडालों में लगाये जा रहे हैं. लेकिन, फायर फाइटिंग सिस्टम पूजा पंडालों में अब तक नहीं लगाया गया.

इसे भी पढ़ें- किशोरगंज प्रगति प्रतीक क्लब दुर्गा पूजा के पंडाल में लगी आग, पाया गया काबू

पंडाल बनाने में ज्वलनशील सामग्री का किया गया है उपयोग

hosp3

राजधानी रांची में सभी पूजा पंडाल बनकर लगभग तैयार हो चुके हैं. पंडाल के बनाने में बांस, लकड़ी, थर्मोकोल, कपड़े और बांस के सूखे पत्ते जैसे ज्वलनशील सामग्री का इस्तेमाल किया गया. ऐसे में पहले से ही फायर फाइटिंग सिस्टम की व्यवस्था आयोजकों को हर हाल में करना चाहिए, ताकि कोई अनहोनी न हो.

आयोजकों के खिलाफ की जायेगी कार्रवाई

केंद्रीय समिति और पूजा समितियों के साथ हुई बैठक में उपायुक्त ने सारे आयोजकों को स्पष्ट कर दिया था कि जो आयोजक पूजा पंडाल में फायर फाइटिंग सिस्टम नहीं लगायेंगे, उन आयोजकों पर कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा था कि लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता है. यह आयोजकों की जिम्मेदारी है कि फायर फाइटिंग सिस्टम लगायें और साथ ही अग्निशमन विभाग से एनओसी ले लें.

प्रगति प्रतीक क्लब पूजा पंडाल में शनिवार रात लग गयी थी आग

किशोरगंज स्थित प्रगति प्रतीक क्लब दुर्गा पूजा के पंडाल में शनिवार की देर रात 2.20 बजे आग लग गयी थी. काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. बताया जा रहा है की यह अग पूजा पंडाल में शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी. पंडाल बनानेवाले कारीगरों और आस-पास के लोगों ने अपनी जान पर खेलकर आग को बुझाया.

इसे भी पढ़ें- पड़ोसी राज्यों ने जेएनयूआरएम के तहत पूरी कर ली सिवरेज परियोजनाएं, झारखंड में पहला चरण भी पूरा नहीं

2016 में भी एक पूजा पंडाल में लगी थी आग

2016 में भी रातू रोड स्थित आरआर स्पोर्टिंग क्लब के पूजा पंडाल के ऊपर से गुजरे बिजली के तार से चिंगारी निकलने के कारण पंडाल में आग लग गयी थी. इससे पंडाल पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था. उस वक्त जांच में पाया गया था कि पंडाल में फायर फाइटिंग सिस्टम नहीं लगा हुआ था. अगर फायर फाइटिंग सिस्टम लगा होता, तो शायद उतना नुकसान नहीं हुआ होता.

इधर, दुर्गा पूजा को लेकर पुलिसकर्मियों और अधिकारियों की छुट्टियां की गयी रद्द

इधर, दुर्गा पूजा को लेकर प्रशासन ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली हैं. डीसी, एसएसपी लगातार पंडालों और पूजा समितियों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और आवश्यक दिशा-निर्देश जारी कर रहे हैं. वहीं, दुर्गा पूजा में सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिसकर्मियों और अधिकारियों की छुट्टियां कैंसिल कर दी गयी हैं. पूरे शहर में बैरिकेडिंग कर दी गयी है. ट्रैफिक रूट डायवर्ट करने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं. वहीं, दुर्गा पूजा के दौरान सोशल मीडिया और अन्य स्रोतों से अफवाह फैलानेवालों और भड़काऊ मैसेज करनेवालों पर सख्त कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें- बोकारो में दुर्गा पूजा पंडाल को अंतिम रुप में देने में जुटे कारीगर

एसएसपी समेत प्रशासनिक अधिकारियों ने किया पूजा पंडालों का निरीक्षण

पूजा के दौरान कोई अप्रिय घटना न हो, इसको लेकर विशेष ध्यान दिया जा रहा है. इसी को लेकर रविवार को रांची एसएसपी अनीश गुप्ता, डीसी राय महिमापत रे, एसडीओ गरिमा सिंह समेत पदाधिकारियों ने शहर के पूजा पंडालों का निरीक्षण किया. वहीं, पूजा आयोजकों, वॉलंटियर से मुलाकात की. साथ ही, फायर सेफ्टी और सीसीटीवी कैमरे लगाये गये हैं या नहीं, इसकी भी जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि फायर सेफ्टी पर ध्यान नहीं देनेवाले पूजा पंडालों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी.

Edit IAS और IFS से भी नहीं संभला जेपीएससी, दो अध्यक्ष भी नहीं करा सके प्रक्रिया पूरी, लोकसभा चुनाव के बाद…

इसे भी पढ़ें- IAS और IFS से भी नहीं संभला जेपीएससी, दो अध्यक्ष भी नहीं करा सके प्रक्रिया पूरी, लोकसभा चुनाव के बाद…

पुलिस चला रही है चेकिंग अभियान

दुर्गा पूजा के मद्देनजर पुलिस शहर में लगातार चेकिंग अभियान चला रही है. अपराधी किस्म के लोगों पर भी पुलिस नजर रख रही है. पुलिस संदिग्ध लोगों पर भी नजर रख रही है. दुर्गा पूजा के दौरान शहर में कोई अनहोनी न हो, इसके लिए प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है और जगह-जगह बैरिकेडिंग करके चेकिंग की जा रही है. सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रशासन ने पुख्ता प्रबंध किया है. पूजा के दौरान सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिए जिला बल के अलावा 200 प्रशिक्षु सब-इंस्पेक्टर भी तैनात रहेंगे.

Edit IAS और IFS से भी नहीं संभला जेपीएससी, दो अध्यक्ष भी नहीं करा सके प्रक्रिया पूरी, लोकसभा चुनाव के बाद…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: