न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रसोईया के बावजूद ANM स्कूल में छात्राएं बना रही थी खाना, गैस लीक से लगी आग-दो छात्राएं झुलसी

879

Palamu: पलामू प्रमंडल के एकमात्र सरकारी एएनएम ट्रेनिंग स्कूल में छात्राओं से खाना बनाने का मामला उजागर हुआ है. आवासीय स्कूल परिसर में मंगलवार की रात दो छात्राओं द्वारा खाना बनाने के क्रम में गैस लीक होने से आग लग गयी. इससे दो छात्राएं गीता कुमारी (धनबाद) व नीता कुजूर (महुआडांड़-लातेहार) झुलस गयी. आग से दोनों का चेहरा और हाथ जल गये हैं. घटना के बाद पूरे हॉस्टल परिसर में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल रहा. दोनों छात्राओं को सदर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. प्राथमिक उपचार करने के बाद दोनों छात्राओं को वापस रात में ही हॉस्टल भेज दिया गया है.

निलंबित होंगी प्राचार्या: सीएस

घटना के वक्त स्कूल की प्राचार्या प्रतिमा कुमारी बिना अवकाश के हॉस्टल से गायब पायी गयी. सीएस डा. कलानंद मिश्रा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्राचार्य को तत्काल ही निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है.

hosp3

दरअसल, जब सिविल सर्जन दोनों छात्राओं को देखने रात को हॉस्टल पहुंचे तो उन्होंने तत्काल ही प्राचार्या को बुलाकर मामले की जानकारी लेनी चाही. जिसपर छात्राओं ने बताया कि वह हॉस्टल में नहीं और किसी को पता भी नहीं है कि वे कहां गयी है? इसके बाद सीएस ने तत्काल ही प्राचार्या के मोबाईल पर संपर्क कर पूछा कि ’आप कहां है’? प्राचार्य ने बताया कि वह रांची में हैं.

जिसपर सीएस ने बिना किसी अवकाश के मुख्यालय से बाहर जाने को अनुशासनहीनता मानते हुए तत्काल ही निलंबित करने का आदेश दिया. इस दौरान सिविल सर्जन के साथ सदर अस्पताल के सर्जन डॉ. सुशील कुमार पांडेय ने दोनों छात्राओं की स्वास्थ्य जांच कर उन्हें खतरे से बाहर बताया.

मामले को झूठलाने में लगी थीं प्राचार्या

हॉस्टल में दो छात्राओं के जलने के मामले को प्राचार्य प्रतिमा कुमारी पूरी तरह से झूठलाती नजर आयी. पत्रकार द्वारा मामले में पक्ष जाने के लिए कॉल करने पर कभी सिविल सर्जन कार्यालय, तो कभी रास्ते में होने की बात कहती रहीं. बाद में सिविल सर्जन द्वारा मामले की पुष्टि करने के बाद प्राचार्य ने दो छात्राओं के बीती रात खाना बनाने के क्रम में जलने की बात स्वीकार की.

रसोईया के बावजूद छात्राएं बनाती हैं खाना

बता दें कि एएनएम स्कूल में नामांकित 60 छात्राओं को खाना बनाने के लिए एक रसोईया भी नियुक्त है. रसोईया घटना के दिन भी उपस्थित थीं, बावजूद छात्राओं द्वारा खाना बनाना अपने आप में कई सवाल खड़ा कर रहा है? जानकारी के अनुसार घटना के दिन छात्राएं रसोईया के साथ मिलकर खाना बना रही थीं. रोटी बनाने के क्रम में गैस सिलेंडर का पाइप लीक होने से गैस का रिसाव हो रहा था. छात्राओं ने बिना सिलेंडर बंद किए ही पाइप बदलने का प्रयास किया, इसी दौरान सिलेंडर में आग लग गयी और मौके पर मौजूद दो छात्राएं जल गयी. बाद में किसी तरह से गैस सिलेंडर में लगे आग पर काबू पाया गया.

इसे भी पढ़ेंः प्रदीप यादव ने कहा एक शौचालय पर है 6000 का कमीशन, अध्यक्ष ने कहा नह इतना नहीं है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: