Sports

नस्लवाद के खिलाफ बोले होल्डर : डोपिंग और मैच फिक्सिंग की तरह ही दोषी खिलाड़ियों को सजा दी जाये

Manchester :  वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने नस्लीय टिप्पणियां करने वाले दोषी खिलाड़ियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की और कहा कि उन्हें डोपिंग और मैच फिक्सिंग करने वाले दोषी खिलाड़ियों की तरह ही सजा मिलनी चाहिए. होल्डर ने ‘बीबीसी स्पोर्ट’ से कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि नस्लवाद की सजा डोपिंग या भ्रष्टाचार की सजा से अलग होनी चाहिए. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हमारे खेल में कुछ मुद्दे हैं तो हमें उन्हें बराबरी से निपटना चाहिए. ’’

इसे भी पढ़ेंः Corona: संक्रमण के 9 नये केस मिले, झारखंड का आंकड़ा 2348 पहुंचा

आजीवन प्रतिबंधित किया जा सकता है

Catalyst IAS
ram janam hospital

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के नियमों के अनुसार एक खिलाड़ी को मैदान पर नस्लीय टिप्पणी करने के लिए आजीवन प्रतिबंधित किया जा सकता है, अगर उसने तीन बार नस्लीय रोधी संहिता का उल्ल्ंघन किया हो. पहली बार ऐसा करने पर चार से आठ निलंबन अंक खिलाड़ी के खाते में जुड़ जाते हैं. दो निलंबन अंक एक टेस्ट या दो एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय या दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के बराबर होते हैं.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ आठ जुलाई से शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला में टीम की अगुआई करने वाले होल्डर ने कहा कि प्रत्येक श्रृखंला से पहले खिलाड़ियों को नस्लीय रोधी चीजों के बारे में बताना शुरू किया जाना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः कोलकाता : अस्पताल में नहीं हुआ इलाज तो बेटे ने की आत्महत्या, सदमे में पिता की जान भी गयी

अनुभव नहीं किया लेकिन बातें सुनी हैं

उन्होंने कहा, ‘‘डोपिंग रोधी और भ्रष्टाचार रोधी बातों के अतिरिक्त शायद हमारे लिए प्रत्येक श्रृंखला शुरू होने से पहले नस्लीय रोधी बातों को भी बताया जाना चाहिए. ’’ होल्डर ने कहा, ‘‘मेरा संदेश है कि इसके प्रति और शिक्षित होने की जरूरत है. मैंने कभी नस्लीय टिप्पणी का अनुभव नहीं किया है लेकिन अपने चारों ओर इसकी बातें सुनी और कुछ देखी हैं. ’’

इसे भी पढ़ेंः भारत-चीन विवाद के बीच कश्मीर में स्कूलों को खाली कराने का फरमान, LPG स्टॉक का आदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button