न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक ने की कस्तूरबा विद्यालयों के रिजल्ट के गिरते ग्राफ पर जतायी चिंता

13 कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों और आठ मॉडल विद्यालयों के प्राचार्यों के साथ की बैठक, आनेवाली परीक्षाओं के रिजल्ट में 30 प्रतिशत इजाफा करने का दिया सख्त निर्देश, विद्यार्थियों के रिजल्ट ठीक नहीं होने पर नपेंगे शिक्षक

27

Ranchi : जिला के 13 कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों के वार्डेन और आठ मॉडल विद्यालयों के प्राचार्यों के साथ क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक अशोक कुमार वर्मा ने बुधवार को समीक्षा बैठक की. बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गयी. इसमें मुख्य रूप से विद्यालयों की आधारभूत संरचना की समीक्षा की गयी. जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनीकांत वर्मा ने जिले के आठ मॉडल विद्यालयों के भवन, शिक्षक-शिक्षिकाओं समेत वार्षिक परीक्षाफल की स्थिति की समीक्षा की. इस क्रम में पाया गया कि तीन मॉडल विद्यालय बुढ़मू, अनगड़ा और कांके नवनिर्मित भवन में चल रहे हैं, जबकि अन्य पांच विद्यालय बेड़ो, चान्हो, मांडर, लापुंग और नामकुम प्रखंड मुख्यालय स्थित उच्च विद्यालय में चल रहे हैं. विद्यालय भवन निर्माण में पांच विद्यालयों की स्थिति पर डीईओ ने निराशा व्यक्त की. उन्होंने अभियंताओं को जल्द से जल्द निर्माण कार्य पूरा करने का आदेश दिया. स्कूलों की स्थिति पर नजर रखने के लिए निकटवर्ती उच्च विद्यालय के प्राचार्यों को कार्यभार दिया गया है.

गिर रहा रिजल्ट का ग्राफ

क्षेत्रीय  शिक्षा  उपनिदेशक  अशोक  कुमार शर्मा ने कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय के परीक्षाफल की समीक्षा करते हुए अफसोस जताया. उन्होंने कहा कि बेहतर संसाधन होने के बावजूद विद्यालय के रिजल्ट का ग्राफ नीचे गिर रहा है. शिक्षकों को सख्त निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि आनेवाली परीक्षाओं में रिजल्ट में 30 प्रतिशत इजाफा नहीं हुआ, तो शिक्षकों को चिह्नित किया जायेगा. कहीं न कहीं विद्यालय संचालन और व्यवस्था में कमी है, तभी ऐसा हो रहा. उन्होंने कहा कि विद्यालय में दक्ष शिक्षकों को ही रखा जाये. विद्यालय की सभी सूचनाओं के आलेख फोल्डर बनाकर एक दिसंबर तक डीईओ कार्यालय में जमा करने का निर्देश दिया गया.

विद्यालयों में जल्द प्रबंधन और विकास समिति का हो गठन

मॉडल विद्यालयों एवं कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालयों में संविदा आधारित शिक्षक नियुक्ति प्रक्रिया आरंभ करने के लिए विभाग से अनुमोदन प्राप्त किया जायेगा. वर्मा ने कहा कि एक सप्ताह में समग्र शिक्षा अभियान के तहत विद्यालयों में प्रबंधन एवं विकास समिति का गठन कर लिया जाना चाहिए. साथ ही, बैंक खाता खोलने, कार्यालय को खाता संबंधित विवरण उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया गया है, ताकि अभियान के तहत आधारभूत संरचनाओं के विकास के लिए राशि दी जा सके. शिक्षकों के भुगतान में अनियमितता को देखते हुए उन्होंने प्रत्येक माह की 10वीं तिथि को मानदेय दिये जाने का निर्देश दिया.

हॉस्टल संचालन के लिए जीरो एरर अनिवार्य

कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डेन एवं प्रभारियों को निर्देश देते हुए डीईओ रजनीकांत वर्मा ने कहा कि आवासीय विद्यालय संचालन के लिए जीरो एरर जरूरी है. प्रबंधन में कोताही बर्दाश्त नहीं की जायेगी. उन्होंने कहा कि आवासीय विद्यालयों की स्थिति से प्रशासन वाकिफ है, ऐसे में कोई भी आकस्मिक स्थिति होने पर जिला कार्यालय को सूचित करना अनिवार्य है. वार्डेन और प्रभारियों को तकनीक का ज्ञान जरूरी है. आनेवाली परीक्षओं में आठवीं से 12वीं तक के लिए शत-प्रतिशत परीक्षाफल देने का अनुरोध किया गया.

इसे भी पढ़ें- प्राथमिक शिक्षक संघ ने काला बिल्ला लगा कर जताया विरोध

इसे भी पढ़ें- पाकुड़ डीसी के तबादले पर फूटे पटाखे, आजसू पार्टी निकालेगी विजय जुलूस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: