न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुमराय टेटे बनीं स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट की डिप्टी डायरेक्टर, 5 साल के लिए मिला मौका

सुमराय टेटे देश की पहली ऐसी महिला खिलाड़ी हैं, जिन्हें ध्यानचंद लाइफ टाइम अवार्ड भी मिल चुका है.

55

Ranchi : झारखंड के छोटे से शहर सिमडेगा के गांव में हॉकी खेलकर बड़ी हुई सुमराय टेटे अब किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. अब झारखंड सरकार की ओर से सुमराय टेटे को स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट में डिप्टी डायरेक्टर के पद पर 5 साल के लिए नियुक्त किया गया है. सुमराय टेटे देश की पहली ऐसी महिला खिलाड़ी हैं, जिन्हें ध्यानचंद लाइफ टाइम अवार्ड भी मिल चुका है.

बचपन से ही अपने पिता बरनाबस टेटे और चाचा सिमोन टेटे हॉकी खेलते सुमराय देखती थीं. फिर उन्हें भी मन में ऐसा करने इच्छा हुई. दरअसल हर रविवार को उनके पिता और चाचा मनोरंजन के तौर हॉकी खेलते थे. साथ ही गांव में भी हॉकी प्रतियोगिता आयोजित किया जाता था. वहीं हॉकी कंपटीशन में जीतने वाली टीम को बकरी और मुर्गा भी इनाम में दिया जाता था. समुराय को भी यह सबकुछ देखकर हॉकी खेलने का शोक जगता था. यही वजह रही कि बचपन में वो बाकि खिलौनों की जगह हॉकी ही खेलती थी.

लड़कों के साथ भी खेली हॉकी

Related Posts

बोकारो : तीन साल में बनना था ढाई किलोमीटर का ओवरब्रिज, साढ़े चार साल में भी अधूरा

डीवीसी बोकारो थर्मल की विलंब से पूरी होनेवाले प्रोजेक्ट (किस्त- 01) : 134 करोड़ का है ओवरब्रिज प्रोजेक्ट

SMILE

सुमराय जब कभी गांव के लड़कों को हॉकी खेलते देखती थीं तो उन्हें साथ खेलाने के लिये कहती थीं. हालांकि लड़के पहले तो उन्हें भगा दिया करते थे. लेकिन बाद में फिर साथ हॉकी खेलने देते थे. वे पेड़ की टहनियों को तोड़कर और नदी के पत्थरों को गेंद बनाकर अक्सर उससे हॉकी खेलती थीं.

इसे भी पढ़ें – राज्य में अब तक बिक चुके हैं 1.35 करोड़ के एलईडी बल्ब, एक ही साल में हो गये 25 हजार फ्यूज

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: