JharkhandLead NewsNEWSRanchi

रांची में ऑनलाइन होल्डिंग टैक्स जमा कराना जंग जीतने के समान, शिकायत के बाद भी सुधार नहीं

Ranchi: रांची नगर निगम शहर में रहने वाले लोगों से हर साल होल्डिंग टैक्स वसूलता है. जिसके बदले में उन्हें रोड, नाली और साफ-सफाई की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती है. अब लोगों को टैक्स जमा कराने के लिए रांची नगर निगम के चक्कर न लगाने पड़े इसके लिए ऑनलाइन टैक्स जमा करने की शुरुआत की गई है. वहीं टैक्स कलेक्शन का काम अब नई एजेंसी से ने संभाल लिया है. लेकिन ऑनलाइन टैक्स भरना सिटी के लोगों के लिए किसी जंग जीतने से कम नहीं है. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोगों को कई बार रिक्वेस्ट के बाद ओटीपी ही नहीं मिल रहा है. ओटीपी नहीं मिलने पर अब लोगों ने नगर निगम में कंप्लेन दर्ज कराई है. जिसमें बताया गया है कि जब ओटीपी ही नहीं मिल रहा तो वे ऑनलाइन टैक्स कैसे भरेंगे.

इसे भी पढ़ेंःमदद की दरकारः बेटे को चाहिये 17 करोड़ का इंजेक्शन, दर-दर भटक रहा है लाचार पिता

हर दिन आधा दर्जन कंप्लेन

होल्डिंग ऑनलाइन जमा नहीं कराने को लेकर हर दिन आधा दर्जन कंप्लेन निगम में आ रहे है. जिसमें सभी की एक ही कंप्लेन है कि उन्हें ओटीपी नहीं मिल रहा है. इसे लेकर कंट्रोल रूम से भी वर्तमान में टैक्स कलेक्शन कर रही एजेंसी श्री पब्लिकेशंस के अधिकारियों को भी सूचना दी गई. लेकिन उन्होंने समस्या का समाधान ही नहीं किया. अब इसका खामियाजा शहर के लोग भुगत रहे है. बताते चलें कि जून में अगर लोग अपना एडवांस टैक्स जमा कराते है तो उन्हें दस परसेंट तक की छूट निगम की ओर से दी जा ही है.

इसे भी पढ़ेंःCorona Update: दूसरी लहर में पहली बार 24 घंटे में झारखंड में कोई मौत नहीं, जानें-क्या है राज्य की स्थिति

advt

रांची नगर निगम एरिया में 53 वार्ड है. जहां 2 लाख 10 हजार से ज्यादा हाउस होल्डर रजिस्टर्ड है. अब लोग कोरोना महामारी में नगर निगम में टैक्स जमा कराने के लिए भीड़ न लगाए इसे लेकर ऑनलाइन टैक्स जमा कराने की अपील नगर निगम कर रहा है. लेकिन प्रोसेस करने में लोगों के पसीने छूट रहे है. वहीं लेट फाइन से बचने के लिए लोगों को आफलाइन टैक्स जमा कराने के लिए नगर निगम जाना पड़ रहा है. जिससे उनकी परेशानी बढ़ गई है और इंफेक्शन का भी खतरा मंडरा रहा है.

 

बरियातू की रहने वाली बी घोष ने नगर निगम को ओटीपी नहीं मिलने के बाद कंप्लेन दर्ज कराई है. साथ ही बताया कि कंप्लेन दर्ज कराने का भी कोई फायदा नहीं है. इसलिए वह अभी टैक्स जमा नहीं करा सकती है. नगर निगम उनपर इसके लिए कार्रवाई करता है तो करे.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: