Crime NewsDeoghar

देवघर : छात्रा ने कोचिंग संचालक पर लगाया डरा-धमकाकर चार साल से शारीरिक संबंध बनाने का आरोप

Deoghar : रिखिया थाना क्षेत्र के बैजनाथपुर की रहनेवाली एक लड़की ने अपने कोचिंग शिक्षक पर पिछले चार वर्षों से डरा-धमकाकर नाजायज संबंध बनाने की शिकायत देवघर के नगर थाना में दर्ज करायी है. त लड़की ने अपने आवेदन में कहा है, “कोचिंग शिक्षक चंद्रमणि प्रकाश पिछले चार वर्षों से डरा-धमकाकर मेरे साथ नाजायज संबंध बनाते आ रहे हैं. वह कहते थे कि अगर किसी को बताओगी, तो तुम्हें समाज के सामने बदनाम कर देंगे.”

Jharkhand Rai

पीड़िता ने कहा- शिक्षक ने 25 जून 2014 को पहली बार बनाया शारीरिक संबंध, तब 16 साल की थी मैं

पीड़ित लड़की ने नगर थाना में दर्ज अपनी शिकायत में कहा है, “कोचिंग शिक्षक चंद्रमणि प्रकाश, जो बैजनाथपुर स्थित पावर हाउस के पास रहते हैं, वह संकरी निवास स्थित सीता होटल के पीछे इनक्रेडिबल साइंस क्लासेस का संचालन करते हैं. चंद्रमणि प्रकाश पिछले चार वर्षों से मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाते आ रहे हैं. पहली बार 25 जून 2014 को जब मैं 16 वर्ष की थी, तो कोचिंग क्लास करने गयी थी, उसी समय चंद्रमणि प्रकाश ने मुझे बहला-फुसलाकर मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाया. यह सिलसिला तब से चलता आ रहा है, लेकिन उनकी धमकी के कारण मैं उनके खिलाफ शिकायत करने की हिम्मत नहीं कर पाती थी.”

नौ वर्षों से लगभग 200 लड़कियों के साथ गलत काम करते आ रहे हैं कोचिंग संचालक

पीड़िता ने कहा है, “कोचिंग संचालक चंद्रमणि प्रकाश अपने कोचिंग संस्थान में पढ़नेवाली लगभग 200 लड़कियों के साथ पिछले नौ वर्षों से गलत काम करते आ रहे हैं. उनके भय से कोई लड़की अपना मुंह नहीं खोलती थी. यह गंदी हरकत वह अपने कोचिंग संस्थान के ही कमरे में करते थे. मैं इस चीज को लेकर पहले शिकायत करना चाहती थी, किंतु किसी लड़की ने मेरा साथ नहीं दिया.”

बाल समिति से संपर्क करने पर मुझे मिली हिम्मत

पीड़ित लड़की ने कहा है कि बाद में वह बाल कल्याण समिति के संपर्क में आयी. समिति के लोगों ने उसे साहस दिया, तब उसने थाना में मामले की शिकायत दर्ज करायी. लड़की ने  आवेदन में कहा है, “अनुरोध है कि इस दरिंदे को कड़ी से कड़ी सजा दी जाये, ताकि भविष्य में किसी और लड़की के साथ जुल्म न कर सके.”

Samford

मामले में चल रहा है अनुसंधान

इस मामले में जब देवघर के नगर थाना प्रभारी से बात की गयी, तो उन्होंने कहा कि इस मामले में अभी अनुसंधान चल रहा है. पीड़ित लड़की का मेडिकल और कोर्ट में 164 का बयान दर्ज कराने के बाद ही आगे की कोई कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें- घोषणा कर पुलिसवालों को भरोसा दिलाया, खुद ही भूल गए रघुवर दास, परिवार अब लगा रहा दफ्तरों के चक्कर

इसे भी पढ़ें- नियम के विरुद्ध चल रहे देश के 539 चाइल्ड केयर संस्थान बंद

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: