न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देवघर : श्रावणी मेले में सख्त होगी सुरक्षा, 10 हजार से ज्यादा जवान होंगे तैनात

798

Deoghar : श्रावणी मेले में प्रतिदिन हजारों की संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुरक्षा व्यवस्था देने के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

सुगमता पूर्वक बाबा भोले पर जलार्पण करने को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गई है. बेहतर सुरक्षा को लेकर पूरे मेले में चप्पे-चप्पे पर पुलिस जवानों को तैनात किया गया है.

इसे भी पढ़ेंःमां अंबे माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड पर क्यों मेहरबान है चतरा व हजारीबाग जिला प्रशासन

10992 महिला व पुरुष जवानों को किया गया है तैनात

श्रावणी मेले को लेकर लगभग 10992 महिला व पुरुष जवानों को तैनात किया गया है. इसमें 1000 लाठी बल और 992 सशस्त्र बल के जवान शामिल हैं. इन जवानों को मंदिर, कांवरिया पथ, बस स्टैंड, श्रद्धालुओं के आवासन स्थल सहित अन्य स्थानों पर तैनात किया गया है.

इसके अलावा रैप, एसएसबी, जैप, जिला बलों की भी प्रतिनुक्ति की गई है. एक माह तक डीएसपी रैंक के 40 पुलिस अधिकारी को प्रतिनुक्त किया जाएगा. वहीं 120 इंस्पेक्टर व 771 पुलिस अवर निरीक्षक और सहायक अवर निरीक्षक को विधि व्यवस्था की जिम्मेवारी सौंपी गई है.

इसे भी पढ़ेंः क्या शिवपुर रेलवे साइडिंग चालू कराने में टीपीसी के अर्जुन गंझू का हाथ है

32 ओपी पर 24 घंटे तैनात रहेंगे पुलिस अधिकारी

SMILE

बेहतर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर 21 ओपी (आउट पोस्ट) बनाए गये हैं. इसमें दुम्मा, सोमनाथ भवन, सरासनी, डीएवी खिजुरिया, हिंदी विद्यापीठ, शिवगंगा, बाबा मंदिर, क्यू कंपलेक्श, नेहरु पार्क, जलसार पार्क, बीएड कॉलेज, बरमसिया, कुमुदनी घोष रोड, नंदन पहाड़ सर्किल, सिंघवा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, रेलवे ओवर ब्रिज, चमारडीह, कुमैठा स्टेडियम, बेलाबगान पुलिस लाइन, त्रिकुट पहाड़ वन विभाग गेस्ट हाउस शामिल हैं.

वहीं, कोठिया स्टैंड, चौपा मोड़, घोरमारा, हथगढ़, कोरियासा, नगर पुस्तकालय, आर मित्रा स्कूल, रिखिया, दर्दमारा, रोहिणी मोड़, चौधरीडीह में 11 टीओपी (ट्रैफिक आउट पोस्ट) बनाये गये हैं.

इसे भी पढ़ेंःना रैयतों को दिया मुआवजा, ना लिया लाइसेंस और शुरू हो गया चतरा शिवपुर रेलवे साइडिंग

66 पुलिसकर्मियों को एसपी ने किया सस्पेंड

श्रावणी मेले में ड्यूटी से नदारद 66 पुलिसकर्मियों को देवघर एसपी ने सस्पेंड कर दिया है. श्रावणी मेले में श्रद्धालूओं की सुरक्षा की जिम्मेवारी देवघर में तैनात पुलिसकर्मियों की थी, लेकिन कई पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी से नदारद थे.

एसपी नरेंद्र सिंह ने सोमवार को मेले का औचक निरीक्षण किया था. इस दौरान कई पुलिसकर्मी ड्यूटी से गायब थे. इसके बाद उन्होंने 66 पुलिसकर्मियों को अपने तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया था और कहा था कि ड्यूटी में लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जो भी लापरवाही करेंगा उसपर कार्रवाई की जाएगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: