DeogharJharkhand

देवघर : रिंकी झा प्रकरण में प्रदीप यादव से साइबर सेल ने की पूछताछ

Deoghar : जेवीएम पार्टी में केंद्रीय प्रवक्ता के पद पर काम करने वाली महिला के साथ यौन उत्‍पीड़न मामले में जेवीएम विधायक प्रदीप यादव से साइबर सेल देवघर ने पूछताछ की. एसडीपीओ, साइबर डीएसपी और इंस्पेक्टर ने प्रदीप यादव पूछताछ की.

प्रदीप यादव को 5 जून को पूछताछ के लिए नोटिस भेजा गया था. इसके बाद प्रदीप यादव ने साइबर थाना में अपना बयान दर्ज करवाने के लिए 7 दिनों का समय मांगा था. जिसके बाद 14 जून की तारिख तय की गयी थी.

इसे भी पढ़ेंःक्या #IL&FS, #DHFL के बाद अगला नंबर #इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड का है?

नोटिस में क्या कहा गया था प्रदीप यादव को

जेवीएम नेत्री से यौन उत्पीड़न का आरोप मामले में बयान दर्ज कराने के लिए पौड़ेयाहाट विधायक प्रदीप यादव ने देवघर साइबर थाने के इंस्पेक्टर से सात दिनों का समय मांगा था. उस आधार पर कांड की आइओ साइबर थाने की इंस्पेक्टर संगीता कुमारी ने 14 जून की तिथि निर्धारित कर दूसरी नोटिस जारी कर दी थी.

नोटिस के माध्यम से विधायक प्रदीप यादव को कहा गया है कि महिला थाना कांड संख्या 13/19 के आप नामजद आरोपित हैं. पुलिस उपाधीक्षक साइबर थाना कार्यालय के माध्यम से पांच जून को नोटिस किया गया था, जिसका जवाब आपके द्वारा सात जून को प्राप्त हुआ.

बयान देने के लिए आपके द्वारा एक सप्ताह के समय की मांग की गयी है. अपना पक्ष रखने के लिए नोटिस प्राप्ति के सात दिनों के अंदर 14 जून को 10 बजे तक साइबर थाना देवघर कार्यालय में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखें. इसके बाद प्रदीप यादव है 14 जून से पहले ही साइबर थाना पहुंचकर अपना बयान दर्ज कराया.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: उम्र का गोल्डेन टाइम इस नौकरी में लगा दिया, अब कर्ज में डूबे हैं

क्या है मामला

महिला ने प्रदीप यादव पर जबरदस्ती का आरोप लगाते हुए कहा कि वह देवघर पार्टी की एक रैली में शामिल होने के लिए आयी थी. रैली खत्म होने के बाद वह अपने रिश्तेदार के यहां चली गयी जो कि मोहनपुर में रहती है. जिसके बाद प्रदीप यादव ने शाम में महिला के मोबाइल पर फोन कर कहा कि रात आठ बजे शिव शक्ति होटल आना है जहां टीम के बाकी लोगों से उसे मिलाना है.

जिसके बाद महिला आठ बजे अपने ड्राइवर के साथ होटल पहुंची. लेकिन वहां पहुंच कर महिला ने देखा कि होटल में कोई भी नहीं है. महिला ने इस बारे में प्रदीप यादव से जब बात की तो उन्होंने उसे होटल के कमरा नंबर 202 में बैठा दिया और वहां से चले गए.

उसके बाद करीब 9.20 के आसपास प्रदीप वापस से कमरे में आए और महिला के साथ जबरदस्ती की. महिला को उन्होंने बेड पर गिरा दिया. जिसके बाद उसने अपने बचाव में प्रदीप यादव को लात मारकर दूर हटाया. इसपर यादव ने उन्हें जान से मारने की धमकी भी दी.

दोनों में झड़प हो ही रही थी कि 9.45 बजे प्रदीप यादव महिला का पर्स उठाकर कमरे से बाहर चले गए. महिला का कहना है कि उसके पर्स में दो लाख रुपये थे. वह घटना से इतनी डरी हुई थी कि पूरी रात वह कमरे में ही रही. जिसके बाद 4 मई को देवघर महिला थाना में मामला दर्ज करवाया गया था.

 

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close