DeogharJharkhand

देवघर :  एसपी के निर्देश पर साइबर अपराध के खिलाफ छापेमारी अभियान, 12 आरोपी गिरफ्तार

22 मोबाइल फोन, 32 सिमकार्ड, 9 बैंक पासबुक, 8 एटीएम कार्ड, 2 चेकबुक, एक लैपटॉप, एक स्कूटी, एक बाइक व एक चार पहिया वाहन बरामद

Deoghar :  साइबर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी के लिए गठित टीम ने रविवार की रात मारगोमुंडा, देवीपुर व खागा थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों में छापेमारी की.

कुल 12 साइबर आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपियों में मारगोमुंडा थाना क्षेत्र के केंदुआटांड़ गांव निवासी रमेश मंडल, देवेंद्र मंडल, छत्रधारी मंडल, निर्मल मंडल, देवीपुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर गांव निवासी पवन दास, उदय दास, खागा थाना क्षेत्र के कांकी गांव निवासी अनवर अंसारी, शमीम अंसारी, मुजफ्फर अंसारी, सरफुद्दीन अंसारी, शिमला गांव निवासी रंजीत पंडित व मुरारी गोस्वामी शामिल है.

इसे भी पढ़ेंः देखें वीडियो- रांची में बीएमडब्ल्यू की लग्जरियस कार से कौन और क्यों ढो रहा है कचरा !

गिरफ्तार आरोपियों के पास से पुलिस ने 22 मोबाइल फोन, 32 सिमकार्ड, 9 बैंक पासबुक, 8 एटीएम कार्ड, 2 चेकबुक, एक लैपटॉप, एक स्कूटी, एक बाइक व एक महिंद्रा बोलेरो चार पहिया वाहन भी बरामद किया है. जब्त महिंद्रा बोलेरो वाहन व बुलेट मोटरसाइकिल गिरफ्तार आरोपी मारगोमुंडा थाना क्षेत्र के केंदुआटांड़ निवासी रमेश मंडल के पास से बरामद किया गया है.

इस बाबत एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने जानकारी देते हुए कहा कि गुप्त सूचना मिली थी कि उपरोक्त गांवों के कुछ युवा अपने आप को बैंक अधिकारी बताते हुए लोगों को ठगी का शिकार बनाते हैं. सूचना मिलने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए साइबर डीएसपी मंगल सिंह जामुदा व साइबर थाना की इंस्पेक्टर संगिता कुमारी के नेतृत्व में टीम बनी.

थाना प्रभारी मारगोमुण्डा, पथरौल, करौं व थाना प्रभारी मधुपुर टीम वन के द्वारा अन्य पुलिस बलों के सहयोग से मोहनपुर थाना क्षेत्र के मारगोमुंडा थाना क्षेत्र के केंदुआटांड़ व देवीपुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर गांव से छापेमारी कर 6 साइबर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

टीम टू में प्रशिक्षु आईपीएस कपिल चौधरी, सारठ एसडीपीओ आमोद नारायण सिंह, साइबर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कलीम अंसारी, थाना प्रभारी खागा, चितरा व पालाजोरी थाना प्रभारी के नेतृत्व में खागा थाना क्षेत्र के कांकी व शिमला गांव से छापेमारी कर 6 साइबर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

इस तरह करते थे ठगी

उपरोक्त आरोपी फर्जी सिमकार्ड से फर्जी बैंक अधिकारी बनकर आम लोगों को फोन कर एटीएम बंद होने व एटीएम चालू कराने के नाम पर बैंक खाते से संबंधित जानकारी व ओटीपी प्राप्त कर अवैध निकासी करने का काम करते थे. केवाईसी अपडेट कराने के नाम पर लोगों से ओटीपी व आधार कार्ड नंबर पूछकर उनके आधार लिंक खाते से अवैध रूप रुपयों की निकासी करने का काम करते थे.

फोन-पे, पेटीएम मनी रिक्वेस्ट भेजकर उनसे ओटीपी प्राप्त कर रुपयों की ठगी किया जाता था. साथ ही उपरोक्त आरोपियों द्वारा गूगल पर विभिन्न प्रकार के वॉलेट एवं बैंक के कस्टमर केयर नंबर का एडवर्टाइजमेंट देकर आम लोगों से आम सहायता के नाम पर भी ठगी की जाती थी. टीम व्यूवर और क्विक सपोर्ट जैसे रिमोट एक्सेस एप्स इंस्टॉल करवा कर गूगल पर मोबाइल नंबर का फर्स्ट 4 डिजिट सर्च कर अपने मन से 6 डिजिट जोड़कर भी उपरोक्त साइबर आरोपियों द्वारा लोगों के साथ ठगी की जाती थी.

इसे भी पढ़ेंः नक्सलियों की गुरिल्ला आर्मी सप्ताह बनी चुनौती, सभी जिलों में अलर्ट

गिरफ्तार आरोपियों में दो सगे भाई भी शामिल

गिरफ्तार आरोपियों में से दो आरोपी आपस में सगे भाई हैं. गिरफ्तार आरोपियों में खागा थाना क्षेत्र के कांकी गांव निवासी अनवर अंसारी व शमीम अंसारी आपस में सगा भाई है. दोनों साथ मिलकर साइबर क्राइम की घटना को अंजाम देते थे.

छापेमारी टीम में कौन-कौन थे शामिल

एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा के निर्देश पर गठित छापेमारी टीम वन का नेतृत्व साइबर डीएसपी मंगल सिंह जामुदा व साइबर थाना की इंस्पेक्टर संगिता कुमारी, थाना प्रभारी मधुपुर मारगोमुंडा, पथरौल, करौं कर रहे थे. जबकि छापेमारी टीम टू का नेतृत्व प्रशिक्षु आईपीएस कपिल चौधरी, सारठ एसडीपीओ आमोद नारायण सिंह, साइबर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कलीम अंसारी, थाना प्रभारी खागा, चितरा व  पालाजोरी थाना प्रभारी कर रहे थे.

छापेमारी टीम में  उनके अलावा साइबर थाना के पीएसआई  प्रेम प्रदीप कुमार, रूपेश कुमार, स्वरूप भंडारी, अजय कुमार यादव, अवधेश बाड़ा, अधनु मुंडा, मनोज कुमार मुर्मू, संगीता रजवार, रेणु कुमारी, मोहम्मद अफरोज, राजेश कुमार, पंकज कुमार निषाद, आरक्षी प्रदीप कुमार मंडल, जयराम पंडित, सपन कुमार मंडल, तीरथ कुमार सिंह, वरुण कुमार दर्वे, प्रेमसागर पंडित,  नुनेश्वर ठाकुर, ताला मुर्मू,  सोमलाल मुर्मू, हवलदार मंगल टूडू, इमानुएल मरांडी अंगरक्षक पुलिस उपाधीक्षक मुख्यालय, चालक हवलदार बबलू सिंह, चालक आरक्षी रतन दुबे, सामुएल मुर्मू व अशोक कुमार ठाकुर शामिल थे.

इसे भी पढ़ेंः कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव में झारखंड के कुल 55 AICC सदस्यों की रहेगी अहम भूमिका

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: