Crime NewsDeoghar

देवघर पुलिस ने डकैती के पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार

  • गिरफ्तार किये गये एक आरोपी को दुमका पुलिस के किया हवाले

Deoghar : देवघर पुलिस ने डकैती कांड के पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार पांच आरोपियों में से एक को दुमका पुलिस के हवाले किया गया है. जबकि, चार आरोपियों को देवघर पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में प्रस्तुत करने के बाद जेल भेज दिया. इन्हें सोमवार को ही गिरफ्तार किया गया था.

Jharkhand Rai

एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने बताया कि सोमवार की रात को प्रशिक्षु आईपीएस अधिकारी कपिल चौधरी और देवघर के एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में सारवां थाना क्षेत्र के तेलियाडीह गांव में छापामारी कर पांचों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. इनमें से 12 वर्ष से फरार एक आरोपी मंटू हाजरा को पुलिस ने दुमका के तालझारी थाना के एक मामले में आरोपी होने के कारण गिरफ्तार कर दुमका पुलिस के हवाले किया है. वहीं, अन्य आरोपियों में निताय हाजरा, मनोज हाजरा, रोहित हाजरा, नवल हाजरा को देवघर पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में प्रस्तुत करने के बाद जेल भेज दिया.

इसे भी पढ़ें- RU: लॉकडाउन अवधि के मानदेय के लिए कार्य बहिष्कार करेंगे अनुबंध सहायक प्राध्यापक

एसपी ने बताया कि मंटू हाजरा तालझारी थाना के 2008 के एक मामले में फरार चल रहा था, जबकि अन्य आरोपी कुंडा थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग डकैती के मामले में 5-6 वर्ष से फरार चल रहे थे. इसमें कुंडा थाना क्षेत्र के ज्योति नगर करनीबाग में 23 जुलाई 2014 को हुए डकैती कांड के मामले में निताय हाजरा को गिरफ्तार किया गया है. एसपी ने बताया कि इस मामले में आरोपी ने मोहल्ला के आभा देवी के घर में 22-23 जुलाई 2014 की रात में घुसकर 5-6 अन्य आपराधकर्मियों के साथ डकैती की थी. वहीं ज्योति नगर के एक नवनिर्मित मकान में सोना-चांदी के जेवरात और नकद की डकैती की थी. वहीं, 21 नवंबर 2015 को डकैती के दूसरे मामले में सारवां थाना क्षेत्र के तेलियाडीह गांव से मनोज हाजरा, रोहित हाजरा, नवल हाजरा को गिरफ्तार किया गया है.

Samford

आरोपियों ने 20-21 नवंबर 2015 की रात में कुंडा थाना क्षेत्र के ठाढ़ीदुलमपुर निवासी कृष्णनंदन मिश्रा के घर में 6-7 अपराधियों के साथ घुसकर सोना के जेवरात और रुपये की लूटपाट की थी. सभी चारों आरोपियों पर जिले के सारवां, मोहनपुर, कुंडा और सारठ थाना क्षेत्र में घटी घटना के मामले में आरोपी हैं. जबकि, एक आरोपी नवल हाजरा रांची के कोतवाली थाना क्षेत्र के एक मामले में भी आरोपी है.

छापेमारी दल में ये अधिकारी और जवान रहे शामिल

एसपी के निर्देश पर गठित पुलिस टीम में प्रशिक्षु आईपीएस कपिल चौधरी, एसडीपीओ सदर विकास चंद्र श्रीवास्तव, पुनि सारवां अंचल केस्टोफर टोप्पो, पुनि नगर अंचल तरुण कुमार, थाना प्रभारी सारवां अजय कुमार सिंह, थाना प्रभारी कुंडा यशवंत कुमार सिंह, थाना प्रभारी सारठ राजेंद्र सिंह और थाना प्रभारी सोनारायठाढी किशोर कुमार श्रीवास्तव के अलावा पुलिस जवान शामिल थे.

इसे भी पढ़ें- राज्य में शादी का झांसा देकर यौन शोषण और घरेलू हिंसा में रांची अव्वल

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: