DeogharJharkhandLead News

देवघर : जैप जवान गुलशन का शव पहुंचते ही गमगीन हुआ माहौल

Deoghar : हजारीबाग जिले के पदमा मैं तैनात जैप जवान गुलशन यादव का शव गांव पहुंचते ही माहौल गमगीन हो गया. हजारीबाग में शव का पोस्टमार्टम किए जाने के बाद शव शनिवार की देर शाम पुलिस संरक्षण में गांव पहुंचा. मौके पर कृषि मंत्री बादल के अनुज विक्रम पत्रलेख के नेतृत्व में टीम बादल के सदस्यों ने दलदली गांव पहुंचकर मृतक के पिता व अन्य परिजनों से मुलाकात की. कहा कि कानूनी प्रक्रिया के तहत सहायता दिलाने में टीम बादल के सदस्य हर वक्त मौजूद रहेंगे.

इसे भी पढ़ें:चार दिन पहले ही हो गई थी गर्भवती के बच्चे की मौत, अस्पताल में कहा 4 को डेट है उसी दिन भर्ती लेंगे

Catalyst IAS
ram janam hospital

बता दें कि मृत जैप जवान गुलशन यादव की शादी 2 साल पूर्व हुई थी और उसे यह एक 15 माह का पुत्री भी है. घटना के बाबत जैप जवान के पिता सुरेश यादव ने कहा कि यह आत्महत्या नहीं है उसकी हत्या की गई है.

The Royal’s
Sanjeevani

कहा कि घटनास्थल का जो दृश्य से बताता है उससे संदेह जाहिर होता है. घटना के दिन गुलशन ने मुझसे बात की थी और 500 भी मांगा था.

जिसे उसे मोबाइल के माध्यम से भेजा गया था. उसके बाद उसने अपनी पत्नी से बात की थी. बाद में विभागीय अधिकारियों द्वारा सूचना दी गई है कि गुलशन ने आत्महत्या की है.

टीम बादल ने शव का अंतिम संस्कार संपन्न कराने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की. टीम बादल के कामदेव रवानी, संजय यादव, चंद्रकांत कुमार, लालू यादव, सरोज झा सहित अन्य लोग व सारवां थाना प्रभारी कुमार अभिषेक दल बल के साथ मौके पर उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें :सिमडेगा में 2 दर्जन से अधिक खिलाड़ियों ने 4 घंटों में तैयार किया खेल मैदान

Related Articles

Back to top button